सबसे बड़ी राहत की उम्मीद: जल्दी खत्म होगी महामारी

अगर यह अनुमान सत्य है तो इससे बड़ी राहत की खबर फिलहाल कोई और नहीं हो सकती. चीन पर सटीक भविष्यवाणी करने वाले नोबेल पुरस्कार विजेता के अनुसार जल्द खत्म होगी कोरोना महामारी

सबसे बड़ी राहत की उम्मीद: जल्दी खत्म होगी महामारी

नई दिल्ली: आज इस दौर में जब सारी दुनिया में कोरोना का कोहराम मचा हुआ है प्रथम दृष्टया इस समाचार को अनुमान से अधिक कुछ नहीं कहा जा सकता. लेकिन जब आपको यह पता चले कि ये भविष्यवाणी करने वाले एक नोबेल पुरस्कार विजेता हैं और इतना ही नहीं चीन पर की गई उनकी भविष्यवाणी सटीक निकली है तो आपको राहत महसूस ज़रूर होगी.

ये हैं माइकल लेविट

मिशेल लेविट नाम है उस शख्स का जिन्होंने आज इस डर के माहौल में लाइलाज कोरोना वायरस को लेकर एक बड़ी भविष्यवाणी की है. माइकल लेविट नोबेल पुरस्कार विजेता हैं और उनकी इस भविष्यवाणी ने लोगों के लिए राहत का काम किया है.

स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के बायोफिजिसिस्ट माइकल लेविट ने अपनी भविष्यवाणी में कहा है कि नोवल कोरोना वायरस का कहर जल्द ही खत्म हो जाएगा, क्योंकि पूरी दुनिया सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रही है और इसने दुनिया को हिम्मत दी है जो कि इस कोरोना महामारी से लड़ने के लिए आज बहुत ज़रूरी है. 

चीन के लिए की थी सही भविष्यवाणी 

माइकल लेविट को अब तक नोबेल पुरस्कार के विजेता के तौर पर ही जाना जाता था लेकिन पिछले तीन माह से माइकल को उनकी भविष्यवाणी के लिए जाना जाने लगा है. दरअसल इन्होने चीन के लिए भविष्यवाणी की थी कि चीन में एक महामारी आएगी जिसमें सवा तीन हजार लोग मरेंगे और यह भविष्यवाणी सही निकली. उसके बाद अब उनके द्वारा की गई इस भविष्यवाणी पर लोग विश्वास करना चाहते हैं.

सत्रह साल पहले जीता था नोबेल

माइकल लेविट ने साल 2003 में रसायन विज्ञान में नोबेल पुरस्कार जीता था. चीन के बारे में उनकी भविष्यवाणी करने के बाद ही कई दुसरे स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने भी वैसी ही  मिलती जुलती भविष्यवाणियां की थीं. 

इसे भी पढ़ें: कोरोना के खिलाफ हिंदुस्तान का ग्लोबल युद्ध! G-20 देशों ने की भारत की तारीफ

'द लॉस एंजिल्स टाइम्स' को दिए अपने एक साक्षात्कार के दौरान कहा है कि हमें कोरोना वायरस के बढ़ते संकट की रोकथाम के लिये जो भी करना चाहिए, वो हम कर रहे हैं. हम सब ठीक होने जा रहे हैं. इसी बात पर उन्होंने आगे कहा कि परिस्थिति उतनी भयावह नहीं है, जितना कि चेताया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें: कोरोना के खिलाफ युद्ध में मोदी सरकार का 'ब्रह्मास्त्र'! देश को सबसे बड़ा तोहफा

इसे भी पढ़ें: कोरोना को देंगे मात इकोनॉमी के लौटेंगे अच्छे दिन!