हां, हमने मारा था कैप्टन सौरभ कालिया को : पाक सेना

Last Updated: Wednesday, July 31, 2013 - 17:52

ज़ी मीडिया ब्यूरो
नई दिल्ली : पाकिस्तान का झूठ एक बार फिर से बेनकाब हुआ है। एक पाकिस्तानी सैनिक का कहना है कि शहीद कैप्टन सौरभ कालिया की हत्या पाक सैनिकों ने की थी। यू-ट्यूब पर एक वीडियो में यह दिखाया गया हैं कि 1999 में कारगिल युद्ध से ठीक पहले भारतीय सेना के कैप्टन सौरव कालिया और पांच दूसरे भारतीय जवानों की हत्या कैसे हुई।
यू-ट्यूब के वीडियो में पाकिस्तान के एक सैनिक ने पूरी घटना को सिलसिलेवार ढंग से बताया है। वीडियो में पाक सेना के एक जवान ने खुद कबूल किया है कि उसकी कंपनी ने कैप्टन कालिया और उसके साथियों को मारा था जबकि पाकिस्तान अब तक यह कहता आ रहा है कि उनके सैनिकों ने कैप्टन सौरभ कालिया और उनके पांच साथियों को नहीं मारा बल्कि पाकिस्तानी फौज को उनके शव एक खाई में पड़े मिले थे। कैप्टन कालिया के पिता इस वीडियो को सबूत के तौर पर सुप्रीम कोर्ट के समक्ष पेश करेंगे।
वीडियो में पाकिस्तान आर्मी का यह जवान कारगिल युद्ध में कैप्टन कालिया और उसके छह साथियों की बेरहमी से कत्ल करने की बात कबूल कर रहा है। वीडियो से पाकिस्तान के तमाम दावों की पोल खुल गई है कि कारगिल युद्ध में पाकिस्तान सेना शामिल नहीं थी। करगिल युद्ध के दौरान 13 मई 1999 को कैप्टन कालिया और उनके साथी शहीद हुए थे। सौरभ कालिया के पिता इस वीडियो को सुप्रीम कोर्ट में चल रहे केस में सबूत के तौर पर पेश करेंगे।
वीडियो के सामने आने से पाकिस्तान का झूठ एक बार फिर बेनकाब हो गई है। 13 मई 1999 को पहली बार पाकिस्तानी सेना से कैप्टन सौरभ कालिया का आमना-सामना हुआ था, लेकिन पाकिस्तान इस बात से इनकार करता रहा है। इस वीडियो के रूप में भारत सरकार के पास पाकिस्तान के खिलाफ बड़ा सबूत भी है लेकिन सरकार इस पर कुछ करेगी कि नहीं यह एक बड़ा सवाल है।



First Published: Wednesday, July 31, 2013 - 17:52
comments powered by Disqus