नेपियर वनडे : कोहली का विराट शतक भी नहीं दिला पाया जीत, भारत 24 रन से हारा

Last Updated: Monday, January 20, 2014 - 10:13

नेपियर : विराट कोहली (123) के करियर के 18वें एकदिवसीय शतक के बावजूद भारत को मैक्लीन पार्क मैदान पर रविवार को खेले गए पहले एकदिवसीय मुकाबले में न्यूजीलैंड के हाथों 24 रनों से हार मिली। इस जीत के साथ मेजबान टीम ने पांच मैचों की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। भारत ने 293 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए खराब शुरुआत की लेकिन कोहली के शतक तथा शिखर धवन के 32 और कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के 40 रनों से उसके लिए जीत की उम्मीद जगाई। कोहली के विकेट पर रहते हुए भारत जीत की स्थिति में लग रहा था लेकिन 45वें ओवर में 237 के कुल योग पर कोहली के आउट होने के बाद यह उम्मीद खत्म हो गई।
भारतीय टीम तमाम प्रयासों के बावजूद 48.4 ओवरों में 268 रन ही बना सकी। कोहली ने 111 गेंदों की शानदार पारी में 11 चौके और दो छक्के लगाए। धवन ने 46 गेंदों पर तीन चौके लगाए जबकि कप्तान ने 46 गेंदों पर दो चौके और दो छक्के लगाए।
रोहित शर्मा (3) का विकेट 15 रन के कुल योग पर गिरने के बाद कोहली ने धवन के साथ दूसरे विकेट के लिए 58 रन जोड़े लेकिन अजिंक्य रहाणे (7) के सस्ते में आउट होने के बाद आगे का अभियान प्रभावित हुआ। इसके बाद कोहली ने सुरेश रैना (18) के साथ चौथे विकेट के लिए 45 और कप्तान के साथ पांचवें विकेट के लिए 95 रन जोड़े।
रवींद्र जडेजा (0) का खाता नहीं खोल पाना भारत को भारी पड़ा। कोहली के आउट होने के बाद भुवनेश्वर कुमार (6) भी सस्ते में रन आउट हो गए। यह विकेट 244 रनों पर गिरा। रविचंद्रन अश्विन (12) का विकेट 259 के कुल योग पर गिरा और फिर अंतिम विकेट के तौर पर इशांत शर्मा (5) आउट हुए।
कीवी टीम की ओर से मिशेल मैकक्लेनाघन ने चार सफलता हासिल की जबकि कोरी एंडरसन को दो विकेट मिले। एडम मिलने, टिम साउदी और केन विलियमसन ने भी एक-एक सफलता पाई।
इससे पहले, एंडरसन (नाबाद 68 रन) के नेतृत्व में अपने बल्लेबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत न्यूजीलैंड ने भारत के सामने 293 रनों का लक्ष्य रख। मेजबान टीम निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट पर 292 रन बनाने में सफल रही।
कुछ समय पहले सबसे तेज शतक का शाहिद अफरीदी का 15 साल से भी अधिक समय का कीर्तिमान ध्वस्त करने वाले एंडरसन ने अपनी 40 गेंदों की नाबाद पारी में तीन चौके और चार छक्के लगाए।
एंडरसन ने कप्तान ब्रेंडन मैक्लम (30) के साथ पांचवें विकेट के लिए 42, ल्यूक रोंची (30) के साथ छठे विकेट के लिए तेज 66 रन जोड़े। रोंची की 18 गेंदों की पारी में दो चौके और इतने ही छक्के शामिल हैं। मैक्लम ने 25 गेंदों पर चार चौके लगाए।
भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए मार्टिन गुपटिल (8) और जेसी रायडर (18) को 32 रनों के कुल योग पर ही पवेलियन की राह दिखा दी थी लेकिन इसके बाद केन विलियमसन (71) और रॉस टेलर (55) ने तीसरे विकेट के लिए 121 रनों की साझेदारी कर अपनी टीम को मजबूती प्रदान की।
विलियमसन को 153 के कुल योग पर रवींद्र जडेजा ने चलता किया। इसके बाद 171 के कुल योग पर टेलर भी चलते बने। विलियमसन ने 88 गेंदों पर सात चौके लगाए जबकि टेलर ने 82 गेंदों की सुलझी हुई पारी में एक चौका लगाया।
इसके बाद टीम को मजबूती प्रदान करने की जिम्मेदारी एंडरसन और मैक्लम ने ली। मैक्लम हालांकि 30 गेंदों पर अर्धशतक पूरा करने वाले एंडरसन के साथ बहुत बड़ी साझेदारी को अंजाम नहीं दे सके लेकिन रोंची और एंडरसन ने 10 से भी अधिक औसत से रन बटोरे।
भारत की ओर मोहम्मद समी ने चार विकेट लिए जबकि जडेजा, इशांत शर्मा और भुवनेश्वर कुमार को एक-एक सफलता मिली। कुमार सबसे किफायती रहे। उन्होंने 10 ओवरों में 38 रन खर्च किए। इशांत के नौ ओवरों में 72 रन बने। (एजेंसी)



First Published: Sunday, January 19, 2014 - 14:47


comments powered by Disqus