close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चुनाव नतीजे आने से ठीक एक दिन पहले शेयर मार्केट में भारी उछाल, Sensex इतने पर हुआ बंद

 बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान 300 अंक ऊपर नीचे हुआ. अंत में सेंसेक्स 140.41 अंक या 0.36 प्रतिशत की बढ़त के साथ 39,110.21 अंक पर बंद हुआ.

चुनाव नतीजे आने से ठीक एक दिन पहले शेयर मार्केट में भारी उछाल, Sensex इतने पर हुआ बंद
निफ्टी भी 28.80 अंक या 0.25 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,737.90 अंक पर पहुंच गया. (फाइल फोटो)

मुंबई: आम चुनाव के नतीजों से एक दिन पहले बुधवार को बैंकिंग और वाहन कंपनियों के शेयरों में उछाल से सेंसेक्स 140 अंक चढ़ गया. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान 300 अंक ऊपर नीचे हुआ. अंत में सेंसेक्स 140.41 अंक या 0.36 प्रतिशत की बढ़त के साथ 39,110.21 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान इसने 39,249.08 अंक का उच्चस्तर तथा 38,903.87 अंक का निचला स्तर भी छुआ.नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 28.80 अंक या 0.25 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,737.90 अंक पर पहुंच गया. 

इंडसइंड बैंक का शेयर सबसे अधिक 4.84 प्रतिशत चढ़ा
सेंसेक्स की कंपनियों में इंडसइंड बैंक का शेयर सबसे अधिक 4.84 प्रतिशत चढ़ा. सनफार्मा, बजाज आटो, भारती एयरटेल, कोल इंडिया, टाटा मोटर्स, एसबीआई, आईसीआईसीआई बैंक, हीरो मोटोकॉर्प, ओएनजीसी, एचडीएफसी, वेदांता, एलएंडटी, कोटक बैंक, मारुति और एक्सिस बैंक के शेयर 2.92 प्रतिशत तक लाभ में रहे. 

निवेशकों की धारणा हुई मजबूत
वहीं दूसरी ओर यस बैंक, आईटीसी, पावरग्रिड, टीसीएस और हिंदुस्तान यूनिलीवर में 2.34 प्रतिशत तक की गिरावट आई. विशेषज्ञों ने कहा कि ज्यादातर एक्जिट पोल में नरेंद्र मोदी की अगुवाई में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के सत्ता में दोबारा आने का अनुमान लगाया गया है जिससे निवेशकों की धारणा मजबूत हुई है. 

शेयर बाजार को मोदी सरकार की वापसी की उम्मीद
शेयरखान बाय बीएनपी परिबा के प्रमुख (परामर्श) हेमांग जानी ने कहा, ‘‘एक्जिट पोल के बाद बाजार यह मानकर चल रहा है कि मोदी सरकार को दूसरा कार्यकाल मिलेगा. हालांकि, यदि भाजपा को पूर्ण बहुमत नहीं मिलता है तो बाजार की धारणा प्रभावित हो सकती है. त्रिशंकु स्थिति रहने पर निकट भविष्य में बाजार के लिए जोखिम बढ़ सकता है.’’ कारोबारियों ने कहा कि विदेशी कोषों के सतत प्रवाह से बाजार में तेजी आई.

डॉलर के मुकाबले रुपया 69.68 पर
इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को 1,185.44 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे, जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 1,090.32 करोड़ रुपये के शेयर बेचे. बीएसई मिडकैप में 0.16 प्रतिशत का नुकसान रहा जबकि स्मॉलकैप 0.54 प्रतिशत चढ़ गया. इस बीच, अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया मामूली बढ़त के साथ 69.68 प्रति डॉलर पर पहुंचा. ब्रेंट कच्चा तेल 0.64 प्रतिशत की बढ़त के साथ 71.72 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था. एशियाई बाजारों में मिलाजुला रुख रहा. वहीं शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार लाभ में चल रहे थे.