विदेशी निवेशकों को नीतिगत सुधार की उम्मीद, जून के पहले सप्ताह में 7095 करोड़ का निवेश
topStorieshindi

विदेशी निवेशकों को नीतिगत सुधार की उम्मीद, जून के पहले सप्ताह में 7095 करोड़ का निवेश

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (FPI) पिछले चार महीने से शुद्ध लिवाल रहे हैं. उन्होंने मई महीने में 9,031.15 करोड़ रुपये, अप्रैल में 16,093 करोड़ रुपये, मार्च में 45,981 करोड़ रुपये और फरवरी में 11,182 करोड़ रुपये की शुद्ध खरीदारी की थी.

विदेशी निवेशकों को नीतिगत सुधार की उम्मीद, जून के पहले सप्ताह में 7095 करोड़ का निवेश

नई दिल्ली: विदेशी निवेशकों ने नीतिगत सुधार जारी रहने की उम्मीद में जून के पहले सप्ताह के दौरान घरेलू पूंजी बाजारों से 7,095 करोड़ रुपये की शुद्ध लिवाली की. विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (FPI) पिछले चार महीने से शुद्ध लिवाल रहे हैं. उन्होंने मई महीने में 9,031.15 करोड़ रुपये, अप्रैल में 16,093 करोड़ रुपये, मार्च में 45,981 करोड़ रुपये और फरवरी में 11,182 करोड़ रुपये की शुद्ध खरीदारी की थी.

डिपॉजिटरीज के पास उपलब्ध ताजा आंकड़ों के अनुसार, FPI ने तीन से सात जून के दौरान शेयरों में 1,915.01 करोड़ रुपये और बांड बाजार में 5,180.43 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया. इससे उनका कुल शुद्ध निवेश 7,095.44 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. बुधवार को ईद के मौके पर बाजार बंद रहे थे.

ग्रो के मुख्य परिचालन अधिकारी हर्ष जैन ने कहा, ‘‘मजेदार है कि आलोच्य अवधि के दौरान किसी भी एक दिन में FPI की निकासी उनके निवेश की तुलना में अधिक नहीं हो सका.’’ बजाज कैपिटल के शोध एवं परामर्श प्रमुख आलोक अग्रवाल ने कहा, ‘‘FPI के ठोस निवेश ने मुख्य सूचकांकों को सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंचा दिया. सेंसेक्स पहली बार 40 हजार अंक के पार चला गया. यह सुधारों की उम्मीद में हुआ. इसी कारण FPI ने इस तरह से निवेश किया.’’

Trending news