ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लिए बड़ी खुशखबरी, जनवरी में शुरू हो जाएगा मेट्रो विस्तार का काम

Greater Noida West Metro Rail : मेट्रो विस्तार के तहत नई योजना में सेक्टर-71 से ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क-5 तक निर्माण होना है. 

ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लिए बड़ी खुशखबरी, जनवरी में शुरू हो जाएगा मेट्रो विस्तार का काम
फाइल फोटो...

नई दिल्‍ली/नोएडा : पिछले दो सालों से मेट्रो की राह देख रहे ग्रेटर नोएडा (वेस्ट) यानि नोएडा एक्‍सटेंशन निवासियों के लिए खुशखबरी है. नए साल में इस क्षेत्र के लिए मेट्रो सेवा विस्तार का काम शुरु हो जाएगा. उम्मीद की जा रही है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ या फिर खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस परियोजना का शिलान्यास कर सकते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से यह जानकारी मिली है.

सेक्टर-71 से ग्रेटर नोएडा वेस्ट तक की है परियोजना
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मेट्रो विस्तार के तहत नई योजना में सेक्टर-71 से ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क-5 तक निर्माण होना है. यह दूरी लगभग 15 किमी की है. इस कार्य को दो चरणों में पूरा करना की योजना है. हाल ही में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने एनएमआरसी को 25 करोड़ रुपये भी जारी कर दिए हैं. इस परियोजना में कुल 2602 करोड़ की राशि आवंटित करने की योजना है.

पीएम नरेंद्र मोदी या योगी आदित्यनाथ कर सकते हैं शिलान्यास
नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों के मुताबिक नए परियोजना विस्तार की नींव रखने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बुलाए जाने की उम्मीद है. लेकिन जानकार यह भी बता रहे हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले महीने ग्रेटर नोएडा में नए एयरपोर्ट के शिलान्यास के लिए आने वाले हैं. संभावना जताई जा रही है कि मेट्रो विस्तार की नींव भी वे ही रख कर जाएं.

चार मूर्ति और किसान चौक के जाम से मिलेगी राहत
ग्रेटर नोएडा वेस्ट में रहने वाले ज्यादातर निवासी रोजाना चार मूर्ति और किसान चौक के जाम में फंसते रहते हैं. इस रूट में मेट्रो सेवा शुरु होने का सीधा असर ट्रैफिक पर दिखने लगेगा. इस रूट में औसतन आधे घंटे तक फंसने क समस्या से भी निजात मिलने की उम्मीद है.

विधानसभा चुनावों से पहले इस विस्तार को चालू करने की है योजना
मामले से जुड़े जानकार बताते हैं कि इस बहुप्रतिक्षित योजना को 2022 तक पूरा करने की डेडलाइन दी गई है. इसके पीछे कारण यह है कि उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव 2022 में ही होने है. सरकार इसका पूरा फायदा उठाना चाहती है. यही कारण है कि किसी भी हाल में प्राधिकरण को इस नए मेट्रो योजना को चालू करवाना चाहती है.