साल 1980 में सिर्फ 10,000 रुपये का निवेश आज बना 1300 करोड़! देखिए Wipro ने निवेशकों को कैसे किया मालामाल

Crorepati Shares: शेयर बाजार में ऐसे कई शेयर हैं जिन्होंने निवेशकों को करोड़पति बना दिया. हालांकि ये काम रातों रात नहीं हुआ, इसके लिए उन्होंने लंबा इंतजार किया और अपना धैर्य का साथ नहीं छोड़ा. ऐसी ही एक कंपनी है जिसका नाम है Wipro.

साल 1980 में सिर्फ 10,000 रुपये का निवेश आज बना 1300 करोड़! देखिए Wipro ने निवेशकों को कैसे किया मालामाल

नई दिल्ली: Crorepati Shares: शेयर बाजार में ऐसे कई शेयर हैं जिन्होंने निवेशकों को करोड़पति बना दिया. हालांकि ये काम रातों रात नहीं हुआ, इसके लिए उन्होंने लंबा इंतजार किया और अपना धैर्य का साथ नहीं छोड़ा. ऐसी ही एक कंपनी है जिसका नाम है Wipro. टेक कंपनियों की दुनिया में विप्रो उन बड़े नामों में से एक है जिसने अपने ग्राहकों और निवेशकों दोनों को मालामाल किया है. 

Wipro का इतिहास

Wipro की स्थापना आजादी से पहले साल 1945 में मोहम्मद प्रेमजी ने वेजिटेबल ऑयल बनाने के लिए की थी. 1 साल बाद कंपनी अपना IPO लेकर आई थी. मोहम्मद प्रेमजी का 1966 में निधन हो गया इसके बाद कंपनी की कमान संभाली उनके होनहार बेटे अजीम प्रेमजी ने. अजीम प्रेमजी ने कंपनी के साथ सॉफ्टवेयर के क्षेत्र में कदम रखा. 

10,000 रुपये कैसे बने 1300 करोड़

हम आपको बताने जा रहे हैं कि अगर आपने 1980 में कंपनी में 10 हजार रुपये का निवेश किया होता तो आज 1300 करोड़ रुपये के मालिक होते. यकीन नहीं हो रहा है तो चलिए समझते हैं ये कैसे होता. 

मान लीजिए कि 1980 में आपने विप्रो के 100 शेयर 100 रुपये की फेसवैल्यू पर खरीदे, तो कुल निवेश हुआ 10,000 रुपये. इसके बाद आपने कभी इस निवेश की तरफ देखा नहीं. न तो कभी प्रॉफिट बुक किया और न ही इससे ज्यादा शेयर खरीदे. विप्रो ने इस दौरान कई बार बोनस शेयरों का भी ऐलान किया, ऊंची फेस वैल्यू वाले शेयरों को शेयर स्प्लिट भी किया, इसी अनुपात में शेयरों की संख्या भी बढ़ी. 

विप्रो ने 1980 से लेकर अबतक कई बार ऐसे बोनस और स्टॉक स्प्लिट्स किए हैं. तो चलिए देखते हैं कि इसका आपके शेयरों पर क्या असर पड़ा. सिर्फ 10,000 रुपये के इनवेस्टमेंट यानी 100 शेयरों से आपने शुरुआत की थी, अब ये शेयर बढ़कर 2.56 करोड़ हो चुके हैं. 

Wipro के बोनस और स्टॉक स्प्लिट

साल  एक्शन   शेयरों की संख्या  फेस वैल्यू 
1980 शुरुआती निवेश  100 100 रु
1981 1:1 बोनस 200 100 रु 
1985 1:1 बोनस 400 100 रु 
1986 स्टॉक स्प्लिट FV 10 रु 4,000 10 रु
1987 1:1 बोनस 8,000 10 रु
1989 1:1 बोनस  16,000 10 रु
1992 1:1 बोनस 32,000 10 रु
1995 1:1 बोनस  64,000 10 रु
1997 2:1 बोनस 1,92,000 10 रु
1999 स्टॉक स्प्लिट FV 2 रु 9,60,000 2 रु
2004 2:1 बोनस 28,80,000 2 रु
2005 1:1 बोनस 57,60,000 2 रु
2010 2:3 बोनस 96,00,000 2 रु
2017 1:1 बोनस 1,92,00,000 2 रु
2019 1:3 बोनस    2,56,00,000 2 रु

 

आज विप्रो का शेयर प्राइस 510 रुपये है, तो कुल वैल्यू हुई, 

शेयर प्राइस x कुल शेयरों की संख्या = कुल वैल्यू 

510 x 2.56 करोड़ = 13,05,60,00,000 रुपये 

यानी आज के शेयर प्राइस पर 10,000 रुपये के शेयरों की संख्या 1300 करोड़ रुपये से भी ज्यादा हो चुकी है. जिन लोगों ने भी 1980 में विप्रो के शेयरों में 10,000 रुपये लगाए होंगे वो आज हजारों करोड़ रुपये की संपत्ति पर बैठे हैं.  

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.