वैश्विक आर्थिक सुस्ती का असर भारत के विदेशी व्यापार पर भी पड़ा, देश का आयात-निर्यात घटा
topStorieshindi

वैश्विक आर्थिक सुस्ती का असर भारत के विदेशी व्यापार पर भी पड़ा, देश का आयात-निर्यात घटा

हालांकि पेट्रोलियम (Petroleum) और रत्नाभूषणों के अलावा अन्य वस्तुओं का निर्यात नवंबर में पिछले साल के इसी महीने से 4.08 फीसदी बढ़कर 19.31 अरब डॉलर हो गया. 

वैश्विक आर्थिक सुस्ती का असर भारत के विदेशी व्यापार पर भी पड़ा, देश का आयात-निर्यात घटा

नई दिल्ली : वैश्विक आर्थिक सुस्ती का असर बीते महीने भारत (India) के विदेशी व्यापार पर भी पड़ा. देश का आयात और निर्यात दानों में नवंबर के दौरान गिरावट दर्ज की गई. निर्यात में मामूली गिरावट रही जबकि आयात 12 फीसदी से ज्यादा घट गया. इस साल नवंबर में भारत का निर्यात पिछले साल के इसी महीने के 26.07 अरब डॉलर से घटकर 25.98 अरब डॉलर रह गया. पिछले महीने के अक्टूबर के मुकाबले भी नवंबर में निर्यात कम हुआ है. अक्टूबर में भारत ने 26.38 अरब डॉलर मूल्य के वस्तुओं का निर्यात किया था.

हालांकि पेट्रोलियम (Petroleum) और रत्नाभूषणों के अलावा अन्य वस्तुओं का निर्यात नवंबर में पिछले साल के इसी महीने से 4.08 फीसदी बढ़कर 19.31 अरब डॉलर हो गया. पिछले साल नवंबर में इन वस्तुओं का निर्यात 18.55 अरब डॉलर का हुआ था.

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, आयात नवंबर में पिछले साल के इसी महीने से 12.71 फीसदी घटकर 38.11 अरब डॉलर रह गया है. पिछले साल नवंबर में आयात 43.66 अरब डॉलर था.

तेल का आयात इस साल नवंबर में 11.06 अरब डॉलर का हुआ जोकि पिछले साल इसी महीने में 13.52 डॉलर मूल्य का तेल आयात हुआ था. इस प्रकार तेल के आयात में डॉलर के मूल्य में पिछले साल के मुकाबले 18.17 फीसदी की कमी आई.

Trending news