अब Jet Airways ने टिकट कैंसिलेशन चार्ज में किया बदलाव, रखी इतनी लिमिट

कंपनी ने 7 फरवरी से बिजनेस क्लास के ‘फ्लेक्स’ श्रेणी के यात्रियों से टिकट कैंसिल कराने की एवज में 3,800 रुपये कैंसिलेशन फीस लेने की घोषणा की है.

अब Jet Airways ने टिकट कैंसिलेशन चार्ज में किया बदलाव, रखी इतनी लिमिट
फाइल फोटो

नई दिल्लीः जेट एयरवेज अब अपने यात्रियों के लिए एक नई सौगात लेकर आई है. कंपनी ने अपनी नई ऑफर के तहत 7 फरवरी से टिकट कैंसिल कराने की एक नई व्यवस्था लागू करने की घोषणा की है. इसके तहत यात्रा की तारीख से 7 दिन पहले टिकट कैंसिल कराने पर यात्रियों को कैंसिलेशन चार्ज कम देना होगा. वहीं 7 दिन के अंदर टिकट कैंसिल कराने पर पैसेंजर्स को ज्यादा चार्ज देना होगा. कंपनी ने 7 फरवरी से बिजनेस क्लास के ‘फ्लेक्स’ श्रेणी के यात्रियों से टिकट कैंसिल कराने की एवज में 3,800 रुपये कैंसिलेशन फीस लेने की घोषणा की है. अब तक इस श्रेणी के यात्रियों को टिकट कैंसिल कराने के लिए चार्ज नहीं देना पड़ता था.

नई व्यवस्था के अनुसार इकनॉमी क्लास के यात्रियों को यात्रा की तारीख से 7 दिन पहले टिकट कैंसिल कराने पर 2,000 रुपये और बिजनेस श्रेणी के यात्रियों को 3,800 रुपये कैंसिलेशन चार्ज देना होगा. वहीं यात्रा की तारीख से सात दिन के भीतर टिकट कैंसिल कराने पर उन्हें क्रमश: 2,800 रुपये और 4,600 रुपये का भुगतान करना होगा.

कर्ज के बोझ से जूझ रही निजी क्षेत्र की विमानन कंपनी जेट एयरवेज (Jet Airways) ने 30 जनवरी को 15 उड़ाने रद्द करने का फैसला किया है. छह बोइंग 737 विमानों के खड़ा होने के बाद यह निर्णय लिया गया है. कंपनी ने ये विमान किराये पर लिए हुए थे. समय पर इनका किराया नहीं चुकाने के कारण इनकी उड़ान रोक दी गई. सूत्रों ने यह जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि मंगलवार को तीन और बोइंग विमानों का परिचालन बंद कर दिया गया है, जिसके चलते मंगलवार को करीब 20 उड़ानों को रद्द कर दिया गया.

जेट की 15 उड़ानें रद्द
खबरों के मुताबिक दो दिनों में किराया नहीं चुकाने की वजह से खड़े किए गए विमानों की कुल संख्या छह हो गई थी. सूत्रों ने बताया कि जेट एयरवेज की 30 जनवरी को 15 उड़ानें रद्द होंगी, इनमें से कुछ उड़ानें दिल्ली से जाने वाली भी हैं. इससे पहले एक सूत्र ने कहा, 'जेट एयरवेज की ओर से विमानों का किराया नहीं चुकाया गया है. इसलिए उसे अपने तीन और बोइंग-737 विमानों को परिचालन से बाहर करना पड़ा है.'

पूंजी निवेश पर बातचीत कर रही जेट
कंपनी अपनी सहयोगी एतिहाद से अतिरिक्त पूंजी का निवेश करने पर बातचीत कर रही है. लेकिन इन तीन विमानों को बाहर किए जाने से उसने अपनी दिल्ली, चेन्नई, मुंबई, पुणे, हैदराबाद, पोर्ट ब्लेयर और बेंगलुरू को जाने और आने वाली कम से कम 19 उड़ाने रद्द की हैं. इससे पहले जेट एयरवेज के तीन बोइंग-737 विमानों को मंगलवार को खड़ा कर दिया गया. इसके बाद जेट की करीब 20 घरेलू उड़ानों को रद्द करना पड़ा.

(इनपुट भाषा से भी)