close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

G-20 में पीएम मोदी ने उठाया आर्थिक भगोड़े का मुद्दा, अन्य नेताओं ने किया समर्थन

पीएम मोदी जी-20 के सदस्यों पर इस बात के लिए दबाव बना रहे हैं कि आर्थिक भगोड़े के मुद्दे पर समूह के भ्रष्टाचार रोधी उपायों के तहत ही कदम उठाया जाए.

G-20 में पीएम मोदी ने उठाया आर्थिक भगोड़े का मुद्दा, अन्य नेताओं ने किया समर्थन
इस बैठक में वर्ल्ड इकोनॉमी और क्राइसिस मैनेजमेंट को लेकर भी तमाम नेताओं के बीच बातचीत हुई. (फोटो साभार रॉयटर्स)

ओसाका: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फिलहाल G-20 समिट में हिस्सा लेने के लिए जापान के ओसाका में हैं. इस बैठक में पीएम मोदी ने आर्थिक भगोड़े का मुद्दा जोर-शोर से उठाया, जिसका जापान के प्रधानमत्री शिन्जो आबे ने समर्थन किया है. पीएम मोदी जी-20 के सदस्यों पर इस बात के लिए दबाव बना रहे हैं कि आर्थिक भगोड़े के मुद्दे पर समूह के भ्रष्टाचार रोधी उपायों के तहत ही कदम उठाया जाए. इसके अलावा वर्ल्ड इकोनॉमी और क्राइसिस मैनेजमेंट को लेकर भी तमाम नेताओं के बीच बातचीत हुई.

इस बैठक के दौरान पीएम शिंजो आबे ने कहा कि जी-20 को इस समस्या से भ्रष्टाचार रोधक उपायों के हिस्से के तौर पर निपटना चाहिए. भारत सरकार ने ब्रिटेन से आर्थिक अपराधियों के प्रत्यर्पण के प्रयास शुरू किए हैं. शराब कारोबारी विजय माल्या के साथ हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण के प्रयास किए जा रहे हैं.

बता दें, इस समय भारत तीन बड़े भगोड़े कारोबारी- विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को वापस लगाने की कोशिश में जुटा है. विजय माल्य के भारत प्रत्यर्पण पर लोअर कोर्ट अपना फैसला सुना चुकी है. प्रत्यर्पण को मंजूरी मिलने के बाद उसने इसे हाईकोर्ट में चैलेंज किया है. नीरव मोदी भी लंदन की वंड्सवर्थ जेल में बंद है. 27 जून को पांचवीं बार उसकी जमानत याचिक खारिज कर दी गई. उम्मीद है कि उसे भी जल्द भारत लाया जाएगा. मेहुल चौकसी इस समय एंटीगुआ में है. वहां के प्रधानमंत्री ने भी कहा कि उसकी नागरिकता रद्द कर दी जाएगी और जल्द ही कानूनी रूप से उसे भारत प्रत्यर्पित कर दिया जाएगा. नीरव मोदी और मेहुल चौकसी पर PNB के साथ 14000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के आरोप हैं.