1000 करोड़ रुपये से ज्यादा के 6 NPA अकाउंट्स को बेचेगा पंजाब नेशनल बैंक
Advertisement

1000 करोड़ रुपये से ज्यादा के 6 NPA अकाउंट्स को बेचेगा पंजाब नेशनल बैंक

इन छह एनपीए खातों के लिए आरक्षित मूल्य 342 करोड़ रुपये रखा गया है. भोपाल की वंदना विद्युत स्टील पर 454.02 करोड़ रुपये तथा कोलकाता की कंपनी वीजा स्टील पर 443.76 करोड़ रुपये का बकाया है. 

फाइल फोटो.

नई दिल्ली: सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने 1,000 करोड़ रुपये से अधिक के छह गैर निष्पादित आस्तियों (एनपीए) के खातों को बिक्री के लिए रखा है. इनमें वंदना विद्युत तथा वीजा स्टील के खाते भी शामिल हैं. संपत्ति पुनर्गठन कंपनियां (एआरसी), गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियां (एनबीएफसी) तथा अन्य बैंक और वित्तीय संस्थान इन खातों के अधिग्रहण के लिए अपनी बोलियां 26 जून तक जमा कर सकते हैं. बोलियां उसके अगले दिन खोली जाएंगी. 

पीएनबी ने एक नोटिस जारी कर कहा, ‘‘हम छह खातों को एआरसी-एनबीएफसी-अन्य बैंक-वित्तीय संस्थानों के लिए बिक्री को रखना चाहते हैं.’’ इन छह एनपीए खातों के लिए आरक्षित मूल्य 342 करोड़ रुपये रखा गया है. भोपाल की वंदना विद्युत स्टील पर 454.02 करोड़ रुपये तथा कोलकाता की कंपनी वीजा स्टील पर 443.76 करोड़ रुपये का बकाया है. 

शेष चार एनपीए खाते- टेम्पटेशन फूड्स, हेलियॉस फोटोवोल्टिक, कैबकॉम केबल्स और जूम वल्लभ स्टील के हैं. बिक्री प्रक्रिया का काम बैंक का ‘दबाव वाली संपत्तियों की लक्षित निपटान कार्रवाई (एसएएसटीआरए) विभाग’ देखेगा. बैंक ने बयान में कहा है कि वित्तीय बोलियां ई-नीलामी प्रक्रिया से बैंक के पोर्टल के जरिये जमा कराई जा सकती हैं.

Trending news