आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई से गदगद हुए रतन टाटा, ट्वीट कर कहा- 'गर्व है...'

 रतन टाटा ने ट्वीट में कहा, "हम पाकिस्तान में चल रहे आतंकी प्रशिक्षण शिविरों पर हवाई हमले के लिए प्रधानमंत्री और भारतीय वायुसेना को बधाई देते हैं. पाकिस्तान अपने यहां आतंकी शिविर नहीं होने का दावा करता रहा है. भारत को अपने जवानों पर हुए आत्मघाती हमले के बदले में की गई जवाबी कार्रवाई पर गर्व है." 

आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई से गदगद हुए रतन टाटा, ट्वीट कर कहा- 'गर्व है...'
उद्योगपति रतन टाटा एयर स्ट्राइक से काफी खुश हैं.
Play

नई दिल्ली: दिग्गज उद्योगपति रतन टाटा ने भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान में आतंकी संगठन ' जैश-ए-मोहम्मद' के कैंप पर किए गए हवाई हमलों की बुधवार को तारीफ की. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नेतृत्व क्षमता की भी सराहना की है. रतन टाटा ने ट्वीट में कहा, "हम पाकिस्तान में चल रहे आतंकी प्रशिक्षण शिविरों पर हवाई हमले के लिए प्रधानमंत्री और भारतीय वायुसेना को बधाई देते हैं. पाकिस्तान अपने यहां आतंकी शिविर नहीं होने का दावा करता रहा है. भारत को अपने जवानों पर हुए आत्मघाती हमले के बदले में की गई जवाबी कार्रवाई पर गर्व है." 

भारत ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) से करीब 80 किलोमीटर दूर पाकिस्तान के अशांत प्रांत खैबर पख्तूनख्वा के बालाकोट में जैश - ए - मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण केंद्र पर बम गिराए. भारत की इस कार्रवाई में बड़ी संख्या में आतंकवादी, प्रशिक्षक एवं शीर्ष कमांडर मारे गए.

उल्लेखनीय है कि जम्मू - कश्मीर के पुलवामा जिले में जैश - ए - मोहम्मद के आत्मघाती हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सी‍आरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गए थे. इस घटना के 12 दिन बाद भारत ने जवाबी कार्रवाई की.

पाक के आतंकी गतिविधियों पर कार्रवाई नहीं करने पर किये गये हवाई हमले: वी के सिंह
केन्द्रीय मंत्री और पूर्व थल सेना प्रमुख वी के सिंह ने मंगलवार को कहा कि भारत को पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी शिविर पर हवाई हमला इसलिए करना पड़ा क्योंकि इस्लामाबाद ने उसकी धरती पर आतंकी गतिविधियों पर कार्रवाई करने के कई मौके दिये जाने के बावजूद ‘‘कोई कार्रवाई नहीं की.’’ 

पाकिस्तान की इस प्रतिक्रिया के बारे में पूछे जाने पर कि इस्लामाबाद के पास अब ‘‘आत्मरक्षा में जवाब देने का अधिकार है’’, सिंह ने कहा, ‘‘मुझे इस पर कुछ नहीं कहना है, लेकिन वे जो भी करें, ध्यानपूर्वक सोच-समझकर करें.’’ 

सिंह ने यहां एक कार्यक्रम के इतर संवाददाताओं से कहा, ‘‘पाकिस्तान को कई मौके दिये गये और उसकी धरती से बढ़ावा दी जाने वाली आतंक से जुड़ी गतिविधियों पर कार्रवाई करने को कहा गया. उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की.’’ उन्होंने कहा, ‘‘उनकी (पाकिस्तान) तरफ से कोई संभावित कार्रवाई नहीं की गई, इसलिए भारत को इन तत्वों पर लगाम कसने के लिए अपनी तरफ से कुछ करना पड़ा.’’

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.