शाओमी को करना पड़ रहा कड़ी टक्कर का सामना, भारतीय स्मार्टफोन बाजार में खो सकता है शीर्ष स्थान

इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन (आईडीसी) की खबर के अनुसार, वर्ष 2019 की पहली तिमाही के अंत में सैमसंग (Samsung) से कहीं आगे शाओमी 30.6 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ आगे चल रही थी. 

शाओमी को करना पड़ रहा कड़ी टक्कर का सामना, भारतीय स्मार्टफोन बाजार में खो सकता है शीर्ष स्थान
फाइल फोटो

नई दिल्ली: चीन (China) की स्मार्टफोन मेकर कंपनी शाओमी (Xiomi) को पूरा यकीन है कि वह वर्ष 2020 में भी भारतीय स्मार्टफोन बाजार में शीर्ष स्थान में बने रहने में कायम रहेगी. लेकिन इंडस्ट्री के विशेषज्ञों की मानें तो उन्हें भरोसा है कि वह 2020 में अन्य किसी को विजेता के रूप में देख सकते हैं.इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन (आईडीसी) की खबर के अनुसार, वर्ष 2019 की पहली तिमाही के अंत में सैमसंग (Samsung) से कहीं आगे शाओमी 30.6 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ आगे चल रही थी. 

22.3 प्रतिशत के साथ सैमसंग दूसरे स्थान पर बनी थी. आईडीसी डाटा के अनुसार, लेकिन 2019 की तीसरी तिमाही तक शाओमी की मार्केट हिस्सेदारी 27.1 प्रतिशत तक गिर गई. सैमसंग को भी गिरावट का अनुभव हुआ, क्योंकि उसका हिस्सा 18.9 प्रतिशत हो गया.

साइबर मीडिया रिसर्च (सीएमआर) में इंडस्ट्री इंटेलिजेंस ग्रुप (आईआईजी) के हेड प्रभु राम ने आईएएनएस से कहा, "भारत में बीबीके ब्रांड्स (पेरेंट कंपनी ऑफ ओप्पो (Oppo), वीवो (Vivo), रियलमी (Realme) और वन प्लस) द्वारा किए गए 2019 की तीसरी तिमाही के उल्लेखनीय परिणाम को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि शाओमी को कड़ी टक्कर के चलते बढ़ती प्रतिस्पर्धा से सावधान रहने की जरूरत होगी. 

2019 की पहली तीसरी तिमाही में इसने अपने तीन प्रतिशत मार्केट शेयर को खोया है." बीबीके ग्रुप ब्रांडों में से भारतीय स्मार्टफोन (Smartphone) बाजार में रियलमी का उदय वास्तव में शानदार रहा है. जहां 2019 की पहली तिमाही में यह 6 प्रतिशत पर था, वहीं तीसरी तिमाही के अंत तक इसका मार्केट शेयर 14.3 पर आ गया.

ये भी देखें:- 

(इनपुट: एजेंसी आईएएनएस)