close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

2007 विश्व कप T20 विनर टीम के मैनेजर ने कहा, भारत है इस बार खिताब का तगड़ा दावेदार

2007 में T20 विश्व कप की विजेता टीम इंडिया के मैनेजर रहे लालचंद राजपूत का कहना है कि भारत इस बार टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण के साथ उतरेगा, इसलिए वह जीत का प्रबल दावेदार है. 

2007 विश्व कप T20 विनर टीम के मैनेजर ने कहा, भारत है इस बार खिताब का तगड़ा दावेदार
(फोटो: PTI)

मुंबई: आईसीसी विश्व कप 2019 की विजेता टीम के बारे में दावे करने में दुनिया कई टीमों के समर्थक जुटे हुए हैं. भारत में भी टीम इंडिया को विजेता बनाने के दावे हो रहे हैं. अब इस सूची में उस दिग्गज का नाम जुड़ गया है जो 2007 में टी20 विश्व कप जीतने वाली टीम इंडिया का मैनेजर रहा था. यह कोई और नहीं पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज लालचंद राजपूत हैं. राजपूत का मानना है कि टीम इंडिया इस बार टूर्नामेंट जीतने की प्रबल दावेदार हैं. 

अपने दावे के लिए यह दी दलील
भारत में क्रिकेट प्रशासन का गहरा और विविध अनुभव रखने वाले राजपूत ने अपनी दलील का कारण भी बताया है. राजपूत ने कहा कि विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम के पास विश्व कप में भाग ले रही दस टीमों में से सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण है जिससे वह खिताब की प्रबल दावेदार बन जाती है. राजपूत के मैनेजर रहते ही 2007 में एमएस धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने अनुभवहीन टीम के साथ टी20 विश्वकप जीतकर दुनिया भर को चौंका दिया था. 

यह भी पढ़ेंसंन्यास पर विचार कर रहे युवराज सिंह, मांग सकते हैं निजी टी20 लीग में खेलने की परमिशन

हर मामले में संतुलित है टीम इंडिया
राजपूत ने रविवार को यहां कहा, ‘‘मेरा मानना है कि भारत के पास सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण है और हमारी टीम बेहद संतुलित है. हमारे पास बहुत अच्छे आलराउंडर हैं और अगर हम अन्य टीमों पर गौर करें तो भारतीय टीम इस मामले में अव्वल है.’’ लालचंद राजपूत इस समय जिम्बाब्वे टीम  के कोच हैं. जिम्बाब्वे की टीम इस बार विश्व कप के लिए क्वालीफाई करने से चूक गई थी. 

टीम इंडिया की गहरी समझ है राजपूत को

राजपूत को टीम इंडिया की ताकत और कमजोरियों की गहरी समझ है. वे 2008 में टीम इंडिया के ऑस्ट्रेलिया दौरे की भी मैनेजर थे जब टीम ने वनडे सीरीज जीती थी. 
इसके अलावा राजपूत 2016 से अफगानिस्तान के कोच भी रह चुके हैं जब टीम ने अपना पहला ऐतिहासिक टेस्ट मैच भारत के खिलाफ खेला था. घरेलू क्रिकेट में वे आसाम के और मुंबई प्रीमियर लीग में एक टीम के मेंटॉर रह चुके हैं. उन्हें मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन में प्रशासनिक पदों का भी लंबा अनुभव है. 

Lalchand Rajpoot

यह खिलाड़ी होगा तुरुप का इक्का
उन्होंने कहा, ‘‘..... और अगर दिन हमारी टीम के अनुकूल रहा तो उसे हराना बेहद मुश्किल होगा. हार्दिक (पंड्या) टीम में तुरूप का इक्का है. कुल मिलाकर मुझे लगता है कि हमारी बहुत अच्छी संभावना है और मुझे लगता है कि हमें शीर्ष चार में होना चाहिए.’’ भारत अपने अभियान की शुरुआत दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच जून को साउथम्पटन में करेगा. 
(इनपुट भाषा)