close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद, महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायक नसीम खान ने उठाए सवाल

टीम इंडिया आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप-2019 (ICC World Cup 2019) में इंग्लैंड के साथ 30 जून को होने वाले मुकाबले में वैकल्पिक जर्सी पहनकर मैदान में उतरेगी. यह जर्सी नीले रंग की नहीं बल्कि नारंगी रंग की होगी. रंग नारंगी होने के कारण जर्सी विपक्ष के निशाने पर आ गई है.

टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद, महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायक नसीम खान ने उठाए सवाल
महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायक नसीम खान ने इस पर सवाल उठाए हैं.

नई दिल्ली: टीम इंडिया आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप-2019 (ICC World Cup 2019) में इंग्लैंड के साथ 30 जून को होने वाले मुकाबले में वैकल्पिक जर्सी पहनकर मैदान में उतरेगी. यह जर्सी नीले रंग की नहीं बल्कि नारंगी रंग की होगी. रंग नारंगी होने के कारण जर्सी विपक्ष के निशाने पर आ गई है. महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायक नसीम खान ने इस पर सवाल उठाए हैं. 

खान ने अपने बयान में केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, "ये सरकार हर चीज को अलग नजर से देखने और दिखाने की कोशिश कर रही है. पूरे देश में पिछले पांच वर्ष से यही कर रही है. चाहे खेल, चाहे सांस्कृतिक कार्यक्रम हों, चाहे शिक्षा का क्षेत्र हो, आप देखेंगे कि मोदी सरकार जब से देश में आई है, एक अलग तरह का चलन शुरू हो गया है. सबको भगवा करने की शुरुआत दुर्भाग्यपूर्ण है. आज तक देश की सभी सरकारों ने खेल, संस्कृति को बढ़ावा देने का काम किया है लेकिन मौजूदा सरकार भगवाकरण पर जोर दे रही है जिससे देश की एकता, अखंडता को खतरा पैदा हो गया है." 

उधर, समाजवादी पार्टी के मुंबई अध्यक्ष अबू आसिम आजमी ने टीम के  इस रंग के पीछे नरेंद्र मोदी सरकार की भगवाकरण की सियासत का नाम दे डाला है. आजमी ने कहा कि भगवा रंग की ड्रेस पहनकर भारतीय टीम के खेलने की तैय्यारी का मतलब है कि सरकार की देश में हर चीज भगवाकरण करने का षडयंत्र कर रही है. आजमी ने सवाल किया कि आखिर भगवा रंग ही क्यों टीम ने चुना है हरा या सफेद रंग का भी चुनाव किया जा सकता था. 

इसी बीच, शिवसेना नेता राज्य मंत्री, गुलाबराव पाटिल ने कहा, "टीम इंडिया की ओरेंज रंग की जर्सी पर बेवजह राजनीति की जा  रही है. विपक्ष के पास कोई काम नहीं बचा है और शायद इसीलिये टीम इंडिया की ड्रेस को भी विवाद में घसीट रहे हैं। ये लोग वहीं है जो  भगवा को आतंक से भी जोड देते हैं." 

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) इस जर्सी के बारे में आईसीसी को जानकारी दे चुका है. इसका रंग नारंगी है. उधर, इसके रंग को लेकर जारी चर्चा के बीच इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने सफाई दी है. सोशल मीडिया में इसे ‘भगवा जर्सी’ भी कहा जा रहा है. भारत और इंग्लैंड का मैच 30 जून को होना है. 

मौजूदा विश्व कप में 10 टीमें भाग ले रही हैं. इसमें कुछ टीमों के खिलाड़ियों की दो तरह की जर्सी है. हाल ही में दक्षिण अफ्रीका ने बांग्लादेश के खिलाफ अपनी 'अल्टरनेट जर्सी' (वैकल्पिक जर्सी) का उपयोग किया. इसकी वजह यह रही कि अगर दक्षिण अफ्रीका की अपनी परंपरागत जर्सी के साथ मैच खेलता तो बांग्लादेश और दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ियों की जर्सी एक ही रंग (हरे) की दिखती.