close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: अफरीदी को जुनैद के विरोध का तरीका पसंद नहीं आया, लेकिन हमदर्दी भी जताई

विश्व कप में पाकिस्तान क्रिकेट टीम में पहले चुने जाने के बाद हटाए जाने पर जुनैद खान ने विरोध किया था. उनका तरीका शाहिद अफरीदी को पसंद नहीं आया.

VIDEO: अफरीदी को जुनैद के विरोध का तरीका पसंद नहीं आया, लेकिन हमदर्दी भी जताई
(फोटो: PTI)

नई दिल्ली: पाकिस्तान क्रिकेट टीम इस बार के आईसीसी विश्व कप की फेवरेट टीमों में से एक थी. दुनिया भर के कई दिग्गज टीम के सेमीफाइनल में पहुंचने का दावा कर चुके हैं. पिछले 10 मैचों में लगातार हार का सामना कर रही पाकिस्तानी टीम का जब 23 मई से पहले अंतिम 15 खिलाड़ियों का चयन किया गया तो उसमें पहले शामिल जुनैद खान का नाम नहीं था. इस पर जुनैद ने अनोखे तरीके से अपनी नाराजगी जताई. अब शाहिद अफरीदी ने उनके इस व्यवहार पर टिप्पणी की है. 

आलोचना भी की और हमदर्दी भी दिखाई
पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने इस मामले पर एक राजनेता की तरह जवाब दिया है. पाकिस्तान सहित दुनिया भर में हैरानी का रिएक्शन देखने को मिला जब पाकिस्तान ने विश्व कप की अपनी टीम घोषित करने के एक महीने के भीतर ही इसमें तीन बदलाव कर दिए. इसी बदलाव का खामियाजा जुनैद खान को भुगतना पड़ा और वे टीम से बाहर हो गए. 

जानिए कैसे विरोध किया था जुनैद ने : World Cup 2019: पाकिस्तान की टीम से बाहर किए जाने से ‘बागी’ हुए जुनैद, जताया अनोखा विरोध

पाक टीम के अहम खिलाड़ी रहे हैं जुनैद
29 साल के जुनैद ने 76 मैचों में पाकिस्तान के लिए 110 विकेट लिए हैं. पाकिस्तान की टीम विश्व कप की टीम घोषित होने के बाद इंग्लैंड में पांच मैचों की वनडे सीरीज खेली. इस सीरीज में जुनैद ने दो मैचों में केवल दो विकेट लिए थे. एक मैच में 85 जबकि दूसरे मैच में 57 रन देने वाले जुनैत से पाकिस्तान के चयनकर्ता खुश नहीं हो सके.  इस सीरीज में प्रदर्शन के आधार पर विश्व कप की टीम में तीन बदलाव किए गए जिसमें जुनैद के साथ आबिद अली और फहीम अशरफ को टीम से बाहर कर दिया गया. उनकी जगह मोहम्मद आमिर, वहाब रियाज, और आसिफ अली को शामिल किया गया है. 

Juned Khan

क्या कहा अफरीदी
अफरीदी को जुनैद के विरोध का तरीका पसंद नहीं आया. अफरीदी ने कहा, “देखिए मेरे ख्याल में जुनैद का जो स्टांस था वो ठीक नहीं था. उसको जरूरत नहीं थी करने की. खामोशी से भी आप बहुत कुछ कह जाते हैं. आप सैंट्रल कॉन्ट्रैक्टेड प्लेयर हैं. मेर ख्याल से तो मैं उसको यही, अगर मैं उसकी जगह होता तो क्या पता मैं भी कर देता अभी तो फिलहाल मना कर रहा हूं. मेरे ख्लाल में.. इतना करियर लंबा था नहीं उसका अभी क्रिकेट शुरू ही की है उसने और आगे जाना है इंशा अल्लाह. उसको इस स्टेज पर जरूरत बिलकुल भी नहीं थी.”

अफरीदी ने जुनैद से सहानुभूति भी जताई  पर मैनेजमेंट को भी बताय जिम्मेदार
उन्होंने कहा, “ बाकी जो आपने बात की कि जो पहले नाम था बाद में नाम हटा दिया गया. ऑबविय़सली डिसअपॉइंटमेंट तो होती है काफी.. मेरे ख्याल में अभी तक उसने वर्ल्डकप अभी तक खेला नहीं है जुनैद ने. तो काफी डिसअपॉइंटमेंट तो थी उस लड़के को नो डाउट. लेकिन उसको बेहतर तरीके से उनको टैकल करना चाहिए था मैनेजमेंट को.”

अच्छी शुरुआत की तलाश में ही पाकिस्तान 
पाकिस्तान टीम ने टूर्नामेंट में अभ्यास मैच में भी अच्छी शुरुआत नहीं की और अफगानिस्तान जैसी कमजोर टीम से उसे हार का सामना करना पड़ा था. टीम की पहले ही इंग्लैंड के खिलाफ पांच वनडे मैचों में 0-4 से हुई करारी हार की वजह काफी जिल्लत उठानी पड़ी थी जबकि टीम ने इंग्लैंड को काफी कड़ी टक्कर दी थी. इस सीरीज में हर मैच में इंग्लैंड ने 340 से ज्यादा रन बनाए थे. पाकिस्तान को पहला मैच 31 मई को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलना है.