close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

वकार ने 1992 विश्व कप से तुलना पर कहा- 'ये महज संयोग, प्‍लेयर भी ऐसा नहीं सोच रहे'

पूर्व कप्तान वकार यूनुस ने कहा कि पाकिस्तान के मौजूदा विश्व में प्रदर्शन की 1992 महासमर में मिली खिताबी जीत के दौरान उपजे हालात से तुलना की अनदेखी करना असंभव है.

वकार ने 1992 विश्व कप से तुलना पर कहा- 'ये महज संयोग, प्‍लेयर भी ऐसा नहीं सोच रहे'

लंदन: पूर्व कप्तान वकार यूनुस ने कहा कि पाकिस्तान के मौजूदा विश्व कप (ICC Cricket World Cup 2019) में प्रदर्शन की 1992 महासमर में मिली खिताबी जीत के दौरान उपजे हालात से तुलना की अनदेखी करना असंभव है. पिछले हफ्ते में दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत से पाकिस्तान सेमीफाइनल की दौड़ में शामिल हो गया है.

इस टूर्नामेंट में जीत का जो ग्राफ रहा है, वह उनकी 1992 विश्व कप में खिताबी जीत के दौरान प्रदर्शन जैसा ही चल रहा है जिसमें भी उन्होंने धीमी शुरूआत करते हुए अंत में ट्राफी हासिल की थी. वकार यूनुस ने आईसीसी में लिखे अपने कॉलम में कहा, ‘‘1992 के साथ तुलना की अनदेखी करना असंभव है. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘ये समानतायें महज संयोग है और यहां तक कि खिलाड़ी भी इसके बारे में नहीं सोच रहे होंगे, पर वे भी इसे अपने दिमाग से पूरी तरह से बाहर नहीं रख सकते. ’’ वकार ने कहा, ‘‘वे इस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं और वे क्वालीफाई कर सकते हैं और अगर ऐसा होता है तो और अगर वे विश्व कप जीत लेते हैं तो यह बहुत ही खास होगा. ’’

पाकिस्तान की वर्ल्‍ड कप में वापसी के बाद सानिया मिर्जा ने दिया जबर्दस्‍त रिएक्‍शन, कहा...

दबाव में अच्छा प्रदर्शन करती है पाकिस्तानी टीम: सरफराज
इस बीच सेमीफाइनल में जगह बनाने की उम्मीदों में इजाफा होने के बाद कप्तान सरफराज अहमद ने कहा कि उनकी टीम दबाव में अच्छा प्रदर्शन करती है. बाबर आजम ने दबाव में नाबाद शतक जड़ा जिससे पाकिस्तान ने बुधवार को विश्व कप में न्यूजीलैंड के अजेय अभियान को थामते हुए छह विकेट से जीत दर्ज की.

सरफराज ने मैच के बाद कहा, ‘‘आज के नतीजे देखकर अच्छा लगा. पाकिस्तानी टीम जब भी दबाव में होती है तब अच्छा प्रदर्शन करती है.’’ शुरुआती मैचों में टीम की हार के बाद कप्तान को कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा था. टीम ने इसके बाद दक्षिण अफ्रीका को हराकर वापसी की और फिर न्यूजीलैंड को भी शिकस्त दी.

PAK की क्रिकेट टीम मौजूदा टीम इंडिया से खौफ खाती है, इसलिए हमेशा दबाव में रहती है: वकार

सरफराज ने एजबस्टन के दर्शकों का भी आभार जताया. कप्तान का हालांकि मानना है कि टीम को अपने क्षेत्ररक्षण में सुधार करने की जरूरत है. उन्होंने कहा, ‘‘क्षेत्ररक्षण महत्वपूर्ण है लेकिन आज से पहले हमने अच्छा क्षेत्ररक्षण नहीं किया था और हमारे अभ्यास सत्र में अपने इस पर कड़ी मेहनत की.’’

सरफराज ने कहा, ‘‘यह शानदार टीम प्रयास है. (मोहम्मद) आमिर ने जिस तरह शुरुआत की और फिर शाहीन (शाह अफरीदी) ने... बीच के ओवरों में शादाब (खान) और फिर जिस तरह बाबर और हारिस (सोहेल) ने बल्लेबाजी की.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि मैंने जिन पारियों को देखा है उनमें बाबर ने सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक खेली. यह आसान पिच नहीं थी और हम पूरे 50 ओवर खेलना चाहते थे. हारिस जिस तरह दबाव से निपटा उसके लिए उसे भी श्रेय जाता है.’’

मौजूदा अभियान और 1992 के अभियान के बीच तुलना के बारे में पूछे जाने पर सरफराज ने कहा, ‘‘हम 1992 विश्व कप के बारे में नहीं सोच रहे, हम यहां एक बार में एक मैच पर ध्यान दे रहे हैं. एक टीम के रूप में हम आश्वस्त हैं और उम्मीद करते हैं कि हम अच्छा प्रदर्शन करेंगे.’’