close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: क्या अफगानिस्तान दक्षिण अफ्रीका के बुरे वक्त का फायदा उठा पाएगा

अफगानिस्तान और दक्षिण अफ्रीका दोनों ही विश्व कप में अभी तक अपनी पहली जीत हासिल नहीं कर सकी हैं. अब दोनों टीमें अपने मैच को वापसी के मौके के तौर पर देख रही हैं. 

World Cup 2019: क्या अफगानिस्तान दक्षिण अफ्रीका के बुरे वक्त का फायदा उठा पाएगा
अफगानिस्तान दक्षिण अफ्रीका मैच रोमांचक होने की उम्मीद है. (फाइल फोटो)

कार्डिफ: इतना तो सभी को लग ही रहा था कि दक्षिण अफ्रीका के लिए विश्व कप 2019 (World Cup 2019) के प्रबल दावेदारों में शानिल होना मुश्किल है, लेकिन यह किसी ने भी नहीं सोचा था कि टीम पहले चार मैचों में ही जीत को तरस जाएगी. वहीं दूसरी तरफ जहां सबको अफगानिस्तान से उम्मीद थी कि वह कुछ दम खम दिखाएगी लेकिन टीम के हुनर पर उसकी अनुभवहीनता भारी पड़ती दिखी. ऐसे में अब दोनों टीमों के आपस में भिड़ना है तो दोनों इस मैच को अपनी पहली जीत के मौके के तौर पर देख रही हैं. 

सबसे नीचे हैं दोनों टीमें
प्वाइंट टेबल में सबसे निचले स्थान काबिज ये दोनों टीमें जानती हैं कि इस क्रिकेट महाकुंभ में पहली जीत हासिल करने का यह उनके पास सर्वश्रेष्ठ मौका है. यह शायद पहला मौका है जबकि दक्षिण अफ्रीका शुरू से ही सेमीफाइनल में पहुंचने के दावेदारों में शामिल नहीं है. इंग्लैंड, बांग्लादेश और भारत के हाथों लगातार तीन हार के बाद वेस्टइंडीज के खिलाफ उसका चौथा मैच बारिश के कारण रद्द कर दिया गया था.

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: भारत-पाक मैच से पहले ICC के कारण बढ़ी क्रिकेटरों की मुसीबतें

अफगानिस्तान का भी वही हाल, लेकिन दक्षिण अफ्रीका उससे बेहतर
अफगानिस्तान की स्थिति भी कमोबेश ऐसी ही है. उसे मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका और न्यूजीलैंड से हार का सामना करना पड़ा. उसके खिलाड़ी इससे प्रेरणा ले सकते हैं कि उन्होंने श्रीलंका को कड़ी चुनौती दी थी. अफगानिस्तान इस मैच में अपने लिए मौके तलाशेगा तो दक्षिण अफ्रीका अपनी ख्याति के अनुरूप प्रदर्शन करने के लिए अधिक बेताब होगा. मैच में बेशक दक्षिण अफ्रीका का पलड़ा भारी है, लेकिन अभी तक एक मैच भी न जीतने से उसके लिए अपना मनोबल बनाए रखने की चुनौती होगी 

बल्लेबाजी है दक्षिण अफ्रीका की कमजोरी
दक्षिण अफ्रीका की बल्लेबाजी उसका कमजोर पक्ष है. इसके अलावा कुछ खिलाड़ियों के चोटिल होने से उसकी परेशानी बढ़ी है. उसके बल्लेबाज रन बनाने के लिए जूझ रहे हैं. यहां तक कि वेस्टइंडीज के खिलाफ बारिश के कारण रद्द कर दिये गये मैच में 7.3 ओवर के खेल में उसने 29 रन के अंदर दो विकेट गंवा दिए थे. अनुभवी हाशिम अमला खराब फार्म में चल रहे हैं. ऐसे में कप्तान फाफ डुप्लेसिस और क्विंटन डिकाक की जिम्मेदारी बढ़ जाती है. इन दोनों को अफगानिस्तान के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ खेल खेलना होगा.

अफगानिस्तान बॉलिंग पर ज्यादा निर्भर
अफगानिस्तान के लिए भी बल्लेबाजी चिंता का विषय है. मोहम्मद शहजाद चोटिल होने के कारण स्वदेश लौट गये हैं. उसके बल्लेबाजों के लिए कागिसो रबाडा और इमरान ताहिर जैसे गेंदबाजों का सामना करना मुश्किल होगा. अपने प्रतिद्वंद्वी की तरह अफगानिस्तान भी अपनी गेंदबाजी पर निर्भर है जिसकी अगुवाई लेग स्पिनर राशिद खान करेंगे.

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: सरफराज का उठा ICC से भरोसा, कहा- भारत के मुताबिक बन रहीं पिचें

टीमें इस प्रकार हैं:
दक्षिण अफ्रीका: फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), एडेन मार्कराम, क्विंटन डिकाक (विकेटकीपर), हाशिम अमला, रासी वान डेर डुसेन, डेविड मिलर, क्रिस मॉरिस, एंडिले फेलुकवायो, जेपी डुमिनी, ड्वाइन प्रीटोरियस, ब्यूरोन हेंड्रिक्स, कागिसो रबाडा, लुंबी एनगिडी, इमरान ताहिर, तबरेज़ शम्सी में से.

अफ़ग़ानिस्तान: गुलबदीन नायब (कप्तान), नूर अली ज़ादरान, हज़रतुल्लाह ज़ाज़ई, रहमत शाह (विकेटकीपर), असगर अफ़गान, हशमतुल्लाह शाहिदी, नजीबुल्लाह ज़ादरान, समीउल्लाह शिनवारी, मोहम्मद नबी, राशिद खान, दौलत जादरान, आफ़ताब आलम, हामिद हसन, मुजीब उर रहमान, इकराम अली खिल में से.