close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

44 साल में इंग्लैंड ने जीता पहला विश्व कप, ब्रिटेन की पीएम ने बताया क्या होगा असर

ब्रिटेन की पीएम मे ने खिताब जीतने वाली इंग्लैंड की टीम के लिए 10 डाउनिंग स्ट्रीट में एक रिसेप्शन होस्ट किया.

44 साल में इंग्लैंड ने जीता पहला विश्व कप, ब्रिटेन की पीएम ने बताया क्या होगा असर
इंग्लैंड में विश्व कप खिाताब जीतने से जश्न का भरपूर माहौल है. (फोटो:Reuters)

लंदन: इंग्लैंड की आईसीसी विश्व कप-2019 (ICC World Cup 2019)में जीत भले ही विवादित रही हो, लेकिन देश में जश्न का माहौल है. दुनिया भर में न्यूजीलैंड के प्रति भी सहानुभूति का खासा माहौल है. इस बीच दो विवादों पर भी खासी चर्चाएं हो रही हैं. पहला बाउंड्री काउंट नियम और दूसरा इंग्लैंड की पारी के आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर ओवर थ्रो में दिया गया एक अतिरिक्त रन विवाद. नियमों पर बहस जोरों पर है. वहीं ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने कहा कि इंग्लैंड के विश्व कप जीतने से उनका देश दोबारा क्रिकेट की ओर आकर्षित हुआ है.

क्या कहा मे ने
मे ने खिताब जीतने वाली इंग्लैंड की टीम के लिए सोमवार रात 10 डाउनिंग स्ट्रीट में एक रिसेप्शन होस्ट किया. मे ने कहा, "सभी ने मिलकर एक बेहतरीन थ्रिलर प्रस्तुत किया. वह मैच हमारे समय के सबसे बेहतरीन मुकाबलों में से एक है." उन्होंने इंग्लैंड की टीम से कहा, "आप एक ऐसी टीम हैं जो आधुनिक ब्रिटेन का प्रतिनिधित्व करते हैं और आपकी तरह विश्व की और कोई टीम नहीं खेलती. जब आपकी जिंदगी के सबसे बड़े मैच में चीजें आपके खिलाफ थीं तब आपने हार नहीं मानी. इसी दृढ़ संकल्प और चरित्र ने आपको विश्व विजेता बनाया है."

यह भी पढ़ें: World Cup Final: इंग्लैंड को ओवरथ्रो पर 6 रन देना गलत, देना चाहिए थे इतने रन- टॉफेल

इंग्लैंड का पहला विश्व कप खिताब है यह 
मे ने कहा, "आपने इस देश को दोबारा क्रिकेट की ओर आकर्षित किया है. हमारे पास ऐसी टीम है जिसकी आने वाली पीढ़ी भी तारीफ करेगी." इंग्लैंड ने पिछले 44 साल के आईसीसी वनडे विश्व कप इतिहास में पहली बार यह खिताब जीता है. इस बीच वह तीन बार विश्वकप फाइनल मे जगह बनाने में कामयाब हो सकी लेकिन वह खिताब हासिल न कर सकी. इंग्लैंड ने 1979, 1987 और 1992 में विश्व कप फाइनल में जगह बनाई थी.

वहीं यह लगातार तीसरी बार है कि विश्व कप का आयोजन करने वाला देश ही यह खिताब जीत रहा है. इस जीत से इंग्लैंड में खासा उत्साह जाहिर है इसी को मे ने रेखांकित करने की कोशिश की. दूसरी तरफ न्यूजीलैंड की टीम लगातार दो बार विश्व कप फाइनल में जगह बनाने में कामयाब रही लेकिन अपना पहला खिताब हासिल न कर सकी. इंग्लैंड में न्यूजीलैंड के प्रति सहानुभूति का माहौल है. वहीं कई खिलाड़ी इस बात की वकालत कर रहे हैं कि दोनों टीमों को संयुक्त विजेता घोषित किया जाना चाहिए था. 

(इनपुट आईएएनएस)