World Cup 2019: जसप्रीत बुमराह के इन रिकॉर्ड्स पर नहीं गया किसी का ध्यान

विश्व कप में जसप्रीत बुमराह का प्रदर्शन शानदार रहा, लेकिन  वे रिकॉर्ड के मामले में ज्यादा चर्चा में नहीं आए. 

World Cup 2019: जसप्रीत बुमराह के इन रिकॉर्ड्स पर नहीं गया किसी का ध्यान
विश्व कप में जसप्रीत बुमराह ने टीम इंडिया के लिए शानदार प्रदर्शन किया. (फोटो :PTI)

नई दिल्ली: आईसीसी विश्व कप-2019 (ICC World Cup 2019) रोमांचक फाइनल और थोड़े से विवादित नतीजे के साथ खत्म हुआ. यह टूर्नामेंट कई तरह से यादगार रहा. नया विजेता, रोमांचक फाइनल और हमेशा की तरह कई यादगार पारियां और रिकॉर्ड. टीम इंडिया सेमीफाइनल में हार कर टूर्नामेंट से बाहर हुई. इस मैच में टीम ने जो जुझारूपन दिखाते हुए खुद को जिस तरह शर्मनाक हार से बचाया वह काबिल तारीफ रहा लेकिन टीम इंडिया के फैंस की निराशा का कम करने के लिए शायद काफी न रहा हो. टीम इंडिया के खिलाड़ियों के नाम भी कुछ रिकॉर्ड रहे. इनमें रोहित शर्मा, विराट कोहली के रिकॉर्ड भी थे. गेंदबाजों में शमी के हैट्रिक के साथ जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की गेंदबाजी की खूब तारीफ हुई लेकिन बुमराह ने इस विश्व कप कुछ खास मुकाम ऐसे छुए हैं जिन पर किसी का ध्यान नहीं गया. 

बुमराह चर्चा में क्यों नहीं रहे
वैसे तो बुमराह टूर्नामेंट के बेहतरीन गेंदबाजों में एक रहे ही, लेकिन वे एक जगह चूक गए जिससे उनका नाम चर्चा में आ नहीं सका और गेंदबाजी में मिचेल स्टार्क जैसे गेंदबाज छाए रहे. बुमराह सबसे विकेट लेने वाले बॉलर न बन सके. जहां ऑस्ट्रेलिया के मिचेल स्टार्क ने 10 मैचों में 27 विकेट लेकर सबकी वाही वाही लूट ले गए, वहीं बुमराह 9 मैचों में 18 विकेट ही ले सके. लेकिन इससे उनका प्रदर्शन किसी भी तरह से कम नहीं रहा. कई बार विशेषज्ञ कह चुके हैं कि मोहम्मद शमी के चार मैचों में 14 विकेटों में बुमराह की गेंदबाजी का अहम योगदान रहा. खुद शमी ने भी अफगानिस्तान के खिलाफ हैट्रिक लेने के बाद माना था कि उनकी हैट्रिक में बुमराह की पैदा किया दबाव काम आया था. इसके अलावा बुमराह की इकोनॉमी 4.41 रही जो कि टूर्नामेंट में 9वें स्थान पर रही. इनमें ज्यादातर गेंदबाजों ने 30 से कम ओवर फेंके थे.

यह भी पढ़ें: World Cup final: अगर दोनों टीमों के बाउंड्री काउंट भी बराबर होते, तो जानिए कैसे होता फैसला

तो फिर बुमराह ने कौन सा रिकॉर्ड बनाया
बुमराह टूर्नामेंट से पहले आईसीसी रैंकिंग में नंबर एक खिलाड़ी थी और उसके बाद भी नंबर एक ही रहे. टूर्नामेंट में उऩ्होंने 9 मैचों में 84 ओवर फेंके. उन्होंने 20.61 के औसत और 4.41 की इकोनॉमी से के साथ कुल 18 विकेट लिए और उनका शानदार प्रदर्शन 55 रन देकर 4 विकेट था. सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में बुमराह 5वें नंबर थे. लेकिन बुमराह टू्र्नामेंट में सबसे ज्यादा मेडन ओवर वाले गेंदबाज रहे. बुमराह ने 9 ओवर मेडन फेंके उनके बाद जोफ्रा आर्चर ने सबसे ज्यादा 8 मेडन ओवर फेंके. 

एक खास रिकॉर्ड यह भी
बुमराह के नाम एक और खास रिकॉर्ड रहा. बुमराह ने टूर्नामेंट की बेस्ट इकोनॉमी वाली पारी खेली. बुमराह ने वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच में 1.5 की इकोनॉमी दी जो कि टूर्नामेंट की किसी भी पारी की बेस्ट थी. मैनचेस्टर में हुए इस मैच में बुमराह ने छह ओवर में 9 रन देते हुए एक ओवर मेडन फेंका और दो विकेट लिए. उनके बाद बेन स्टोक्स ने लीग मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ 5 ओवर में 2.00 की इकोनॉमी से दस रन देकर एक विकेट लिया. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.