close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: न्यूजीलैंड से हारने पर टूर्नामेंट से बाहर हो सकता है पाकिस्तान

विश्व कप में न्यूजीलैंड जैसी मजबूत टीम के खिलाफ पाकिस्तान के लिए करो या मरो का मुकाबला है.

World Cup 2019: न्यूजीलैंड से हारने पर टूर्नामेंट से बाहर हो सकता है पाकिस्तान
पाकिस्तान की टीम के लिए न्यूजीलैंड को हराना आासान काम नहीं होगा. (फाइल फोटो)

बर्मिघम: आईसीसी विश्व कप 2019 (ICC World Cup 2019) में  न्यूजीलैंड और पाकिस्तान (New Zealand vs Pakistan) के बीच होने वाले मुकाबले में पाकिस्तान टीम का कड़ा इम्तिहान होगा. दक्षिण अफ्रीका पर मिली जीत के साथ टूर्नामेंट में अपना वजूद बनाये रखने वाली पाकिस्तानी टीम को विश्व कप में यह मैच भी अब ‘करो या मरो’ का मुकाबला है. पाकिस्तान टीम अब तक हुए छह मैचों में से केवल दो मैच ही जीत सकी है, जबकि तीन में उसे हार का सामना करना पड़ा है. वहीं न्यूजीलैंड ने छह में से पांच मैच जीते हैं और एक मैच बारिश के कारण रद्द हुआ है. 

कठिन है डगर पाकिस्तान की
अपने धुर विरोधी भारत से हारने के बाद तीखी आलोचना झेल रही पाकिस्तानी टीम ने दक्षिण अफ्रीका को पिछले मैच में 49 रन से हराया. इसके बाद भी उसकी आगे की राह आसान नहीं है. पाकिस्तान छह मैचों में पांच अंक लेकर सातवें स्थान पर है. सरफराज अहमद और उनकी टीम को अब न सिर्फ बाकी तीनों मैच जीतने होंगे बल्कि दूसरे मैचों के नतीजे भी अनुकूल आने की दुआ करनी होगी.

यह भी पढ़ें: ICC World Cup 2019: भारत से हारने के बाद खुदकुशी करना चाहते थे पाकिस्तानी कोच

मोहम्मद आमिर के भरोसे हैं पाकिस्तान
पाकिस्तान के आक्रमण की धुरी तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर रहे हैं जिन्होंने 15 विकेट चटकाए हैं. दूसरे छोर से हालांकि उन्हें सहयोग नहीं मिल सका. पहले मैच के बाद बाहर किये गए बायें हाथ के बल्लेबाज हारिस सोहेल ने पिछले मैच में वापसी करके 59 गेंद में 89 रन बनाए. शादाब खान और वहाब रियाज ने पिछले मैच में तीन तीन और आमिर ने दो विकेट लिये. इस मैच में गेंदबाज और बल्लेबाज मिलकर अच्छा प्रदर्शन करने में कामयाब रहे 

पाकिस्तान की फील्डिंग है चिंता
पिछले मैच में पाकिस्तान की फील्डिंग अब तक बहुत लचर रही है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जीत हासिल करने के बाद पाकिस्तान के कप्तान सरफराज ने कहा, ‘‘हमें फील्डिंग पर मेहनत करनी होगी. हमने कई कैच गंवाये. अब सभी तीन मैच हर हालत में जीतने हैं.’’ ऐसा नहीं है कि पाकिस्तान की फील्डिंग इसी मैच में खराब रही. यह हाल टीम का पूरे टूर्नामेंट में रहा है.

सबसे बढ़िया प्रदर्शन किया है न्यूजीलैंड ने
न्यूजीलैंड अभी तक अपराजेय रही है और अंकतालिका में शीर्ष पर काबिज है. कप्तान केन विलियम्सन ने मोर्चे से अगुवाई करके टीम के संकटमोचक की भूमिका निभाई है. दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज के खिलाफ उन्होंने शतक लगाकर टीम को जीत दिलाई. रोस टेलर ने भी रन बनाये हैं लेकिन कोलिन मुनरो और मार्टिन गुप्टिल अभी तक नहीं चले हैं. गेंदबाजी में ट्रेंट बोल्ट और लॉकी फर्ग्युसन भी अच्छे फार्म में है. उनके अलावा जेम्स नीशाम और कोलिन डि ग्रैंडहोम भी ऑलराउंडर के रूप में उपयोगी साबित हुए हैं. 

न्यूजीलैंड की टीम निर्धारित समय में ओवर पूरे करने में नाकाम रही है और एक मैच में और अगर ऐसा रहता है तो विलियम्सन पर निलंबन लग सकता है. ऐसा होने पर न्यूजीलैंड की टीम को बड़ा झटका लग जाएगा क्योंकि टीम विलियम्सन की बैटिंग और कप्तानी पर बहुत ज्यादा निर्भर है.

टीमें:
पाकिस्तान: सरफराज अहमद (कप्तान), फखर जमां, इमाम उल हक,बाबर आजम, हारिस सोहेल, हसन अली, शादाब खान, मोहम्मद हफीज, मोहम्मद हसनैन, शाहीन शाह अफरीदी, वहाब रियाज, मोहम्मद आमिर, शोएब मलिक, इमाद वसीम, आसिफ अली.

न्यूजीलैंड: केन विलियम्सन (कप्तान), मार्टिन गुप्टिल, मैट हेनरी, टॉम लाथम, कोलिन मुनरो, जेम्स नीशाम, हेनरी निकोल्स, मिचेल सेंटनेर, ईश सोढी, ट्रेंट बोल्ट, कोलिन डि ग्रैंडहोम, लॉकी फर्ग्युसन, टिम साउदी, रॉस टेलर, टॉम ब्लंडेल.