COVID-19 से जंग में भारत को मिली दूसरी कामयाबी, Bharat Biotech की Covaxin को मिली मंजूरी
X

COVID-19 से जंग में भारत को मिली दूसरी कामयाबी, Bharat Biotech की Covaxin को मिली मंजूरी

शुक्रवार को Covishield को मंजूरी के बाद शनिवार को सब्जेक्ट एक्पर्ट कमेटी ने भारत बायोटेक की Covaxin को भी आपात इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है. बैठक खत्म होते ही इसका औपचारिक ऐलान भी कर दिया गया है.

COVID-19 से जंग में भारत को मिली दूसरी कामयाबी, Bharat Biotech की Covaxin को मिली मंजूरी

नई दिल्ली: नए साल की शुरुआत होते ही भारत को दूसरी कोरोना वैक्सीन (India's Second Corona Vaccine) का तोहफा मिल गया है. शनिवार को सब्जेक्ट एक्पर्ट कमेटी (SEC) ने भारत बायोटेक द्वारा निर्मित स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन (Covaxin) के आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है. इससे पहले शुक्रवार को हुई बैठक में कमेटी ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित कोविशील्ड (Covishield) कोरोना वैक्सीन के आपात इस्तेमाल की मंजूरी दी थी.

100 रुपये के आसपास हो सकती है एक डोज की कीमत

जानकारी के अनुसार, सब्जेक्ट एक्पर्ट कमेटी (SEC) ने आज की बैठक में भारत की स्वदेशी कोरोना वैक्सीन को रिकमेंड किया है. हालांकि अंतिम निर्णय डीसीजीआई (ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया)  द्वारा ही लिया जाएगा. यानी DCGI की अप्रूवल मिलते ही अगले 6-7 दिनों में वैक्सीनशन की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी. माना जा रहा है कि ये वैक्सीन दूसरी Vaccines के मुकाबले सबसे सस्ती हो होगी. इस वैक्सीन की एक डोज की कीमत 100 रुपये के आसपास हो सकती है. इस हिसाब से अगर देश में सभी लोगों को ये वैक्सीन लगाई गई तो सरकार का इस पर खर्च 13 हजार 500 करोड़ रुपये के आसपास होगा.

ये भी पढ़ें:- Good News: 6 जनवरी से वापस शुरू होंगी India-Britain की Flights, जानिए क्या हैं तैयारियां

भारत में 4 वैक्सीन बनकर तैयार

कोविशील्ड को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी मिलने के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने खुशी जताई है. उन्होंने कहा, भारत शायद एकमात्र ऐसा देश है जहां कोरोना की चार वैक्सीन बनकर तैयार हैं. इन चार वैक्सिनों में कोविशील्ड, कोवैक्सीन, फाइजर और जायडस कैडिला शामिल है. बताते चलें कि भारत बायोटेक ने अपनी वैक्सीन ICMR दिल्ली और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के साथ मिलकर तैयार की है. 

LIVE TV

Trending news