close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विमान हादसे में शहीद के परिजनों से मिले CM केजरीवाल, एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता का किया ऐलान

असम में जोरहाट वायु सेना स्टेशन से भारत-चीन सीमा पर मेचुका के लिए तीन जून को उड़ान भरने वाला एएन-32 दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें भारतीय वायुसेना के 13 कर्मी शहीद हो गये थे.

विमान हादसे में शहीद के परिजनों से मिले CM केजरीवाल, एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता का किया ऐलान
राजेश कुमार के परिजनों को सांत्वना देते दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल. (फोटो साभार- @ArvindKejriwal)

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हाल में एएन-32 हादसे में जान गंवाने वाले वायुसेना के कर्मी राजेश कुमार के परिवार को शुक्रवार को एक करोड़ रुपये की मदद की घोषणा की. केजरीवाल ने यहां कुमार के परिवार से मुलाकात की और उन्हें आश्वासन दिया कि कुमार के परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी. गौरतलब है कि असम में जोरहाट वायु सेना स्टेशन से भारत-चीन सीमा पर मेचुका के लिए तीन जून को उड़ान भरने वाला एएन-32 दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें भारतीय वायुसेना के 13 कर्मी शहीद हो गये थे.

आपको बता दें कि तीन जून की दोपहर एएन-32 विमान ने असम के जोरहट से मेंचुका एडवांस लैंडिंग ग्राउंड के लिए उड़ान भरी थी. उड़ान भरने के आधे घंटे के अंदर विमान का संपर्क कंट्रोल रूम से टूट गया था और उसके बाद से विमान का कुछ पता नहीं चल पाया था. विमान में पायलट सहित कुल 13 लोग सवार थे. 

AN-32 विमान हादसा: पर्वतारोहियों की टीम पहुंची क्रैश साइट पर, सैनिकों के शव लाने की कोशिशें जारी

भारतीय वायुसेना के एएन-32 विमान का मलबा जिस स्थान पर मिला था, वह अरुणाचल प्रदेश में एएन-32 के उड़ान मार्ग से करीब 15-20 किलोमीटर उत्तर की ओर है. वायुसेना के बयान के अनुसार, 12,000 फीट पर एक छोटे से गांव लिपो के पास विमान का मलबा मिला था.

लीपो गांव के घने जगंलों में विमान का मलबा मिलने के बाद वायुसेना ने इसकी तस्वीर जारी की थी. दुर्गम पहाड़ी इलाके से विमान के दुर्घटनाग्रस्त स्थल की जो तस्वीर में मलबा बिखरा हुआ और आसपास के पेड़ जले हुए दिख रहे थे. जिससे यह आशंका जताई गई थी कि विमान के क्रैश होने के बाद इन पेड़ों में आग लगी होगी.