अपने स्थापना दिवस पर CAA के खिलाफ देशभर में फ्लैग मार्च निकालेगी कांग्रेस, असम में रैली करेंगे राहुल

कांग्रेस (Congress) ने अपने स्थापना दिवस पर CAA के खिलाफ देशभर में फ्लैग मार्च निकालने का फैसला लिया है. संविधान बचाओ देश बचाओ के नारे के साथ 28 दिसंबर को पूरे देश में फ्लैग मार्च निकालेगी. 

अपने स्थापना दिवस पर CAA के खिलाफ देशभर में फ्लैग मार्च निकालेगी कांग्रेस, असम में रैली करेंगे राहुल
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कांग्रेस (Congress) ने अपने स्थापना दिवस पर CAA के खिलाफ देशभर में फ्लैग मार्च निकालने का फैसला लिया है. संविधान बचाओ देश बचाओ के नारे के साथ 28 दिसंबर को पूरे देश में फ्लैग मार्च निकालेगी. 

कांग्रेस फ्लैग मार्च के दौरान संविधान की प्रस्तवानी पढ़ेगी. राहुल गांधी 28 दिसंबर को असम में रहेंगे और सीएए के खिलाफ मार्च में शामिल होंगे. 28 दिसंबर को कांग्रेस के मुख्यालय में स्थापना दिवस मनाया जाएगा. 

इससे पहले राहुल गांधी ने शुक्रवार को एनआरसी और एनपीआर को गरीबों पर टैक्स बताया. उन्होंने कहा कि नोटबंदी भी गरीबों पर एक टैक्स था. यह गरीबों पर एक हमला है अब गरीब पूछ रहे हैं कि हम नौकरियां कैसे हासिल करेंगे. 

बता दें कांग्रेस सीएए के खिलाफ लगातार आक्रामक रवैया अपना रही है. कांग्रेस ने 23 दिसंबर को राजघाट पर धरना दिया था जिसमें कांग्रेस सभी वरिष्ठ नेता शामिल हुए थे. इस धरने में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी सहित शीर्ष कांग्रेस नेतृत्व ने सीएए के खिलाफ राजघाट स्थित महात्मा गांधी समाधि स्थल के पास सत्याग्रह किया. उनके साथ सैकड़ों पार्टी समर्थक भी विरोध पर बैठे थे.

 

वहीं सीएए और एनआरसी के खिलाफ मेरठ में पिछले सप्ताह हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को पुलिस ने मंगलवार को शहर में प्रवेश करने से पहले रोक दिया जिसके बाद वे वापस दिल्ली लौट गए हैं. कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि राहुल और प्रियंका दोनों को मेरठ के बाहर परतापुर से वापस लौटा दिया गया.