अखिलेश यादव ने कहा, 'हम कसम खाएं, 15 लाख के झूठ के झांसे में नहीं आएंगे'

सपा ने बीजेपी  के खिलाफ हैशटैग 'नेवर अगेन' के साथ 'ट्विटर वॉर' छेड़ते हुए मतदाताओं का आह्वान किया कि वे भाजपा की जुमलेबाजी के झांसे में नहीं आएं

अखिलेश यादव ने कहा, 'हम कसम खाएं, 15 लाख के झूठ के झांसे में नहीं आएंगे'
एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (एसपी) ने केन्द्र में सत्तारूढ़ भाजपा के खिलाफ हैशटैग 'नेवर अगेन' के साथ 'ट्विटर वॉर' छेड़ते हुए मतदाताओं का आह्वान किया कि वे बीजेपी की जुमलेबाजी के झांसे में नहीं आएं और अगले लोकसभा चुनाव में उसके खिलाफ खड़े हों.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया 'आइये हम कसम खाएं कि नेवर अगेन (कभी नहीं)...रुपये निकालने के लिये बैंकों की कतार में लगे लोगों को मरने देंगे, 15 लाख के झूठ के झांसे में आयेंगे, किसानों को आत्महत्या करने देंगे, राष्ट्रीय सुरक्षा को कुछ लोगों के हाथों में पड़ने देंगे, लोगों को उनकी आस्था के आधार पर कत्ल होने देंगे, ढाई लोगों को शासन करने देंगे.' इस ट्वीट के फौरन बाद भाजपा सरकार को घेरने के लिये सपा के ट्विटर हैंडल से एक के बाद एक कई ट्वीट किये गये.

Akhilesh Yadav targets BJP

सपा के एक वरिष्ठ नेता ने इस बारे में पूछे जाने पर कहा कि यह लोगों को भाजपा की जुमलेबाजी से सावधान करने और उन्हें इसके खिलाफ खड़ा करने की कोशिश है.

अखिलेश ने इससे पहले गत पांच फरवरी को देश की जनता के नाम लिखे खुले पत्र में किसी का नाम लिये बगैर कहा था कि ढाई व्यक्तियों और उनकी चापलूसी में जुटे मीडिया ने हमारे देश को विध्वंस की कगार पर ला खड़ा किया है. हमारी सम्प्रभुता और प्राकृतिक संसाधनों को उन कुछ मशहूर उद्योगपतियों के हाथ बेच दिया गया है जो भाजपा को वित्तीय मदद पहुंचाते हैं. बदले में भाजपा उनकी सुविधा के हिसाब से नीतियां बनाती है.

सपा अध्यक्ष ने आरोप लगाया था कि आज देश का अल्पसंख्यक तबका भाजपा की आईटी सेल यानी 'इंटरनेट टेररिस्ट सेल' द्वारा फैलायी जाने वाली अफवाहों से भड़की भीड़ के हाथों पीट—पीट कर मार डाले जाने के खौफ में जी रहा है.

(इनपुट - भाषा)