भाजपा व आप की लड़ाई से बढ़ीं दिल्ली वालों की मुश्किलें : अजय माकन

बारिश के दौरान दिल्ली के विभिन्न इलाकों में सड़कों पर जलभराव का मुद्दा उठाते हुए कांग्रेस के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन ने भाजपा शासित एमसीडी और केजरीवाल सरकार पर जम कर हमला बोला.

भाजपा व आप की लड़ाई से बढ़ीं दिल्ली वालों की मुश्किलें : अजय माकन
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष माकन ने जलभराव की समस्या को उठाते हुए भाजपा व आप पर हमला बोला (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : बारिश के दौरान दिल्ली के विभिन्न इलाकों में सड़कों पर जलभराव का मुद्दा उठाते हुए कांग्रेस के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन ने भाजपा शासित एमसीडी और केजरीवाल सरकार पर जम कर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि अभी पूरा मानसून का मौसम बाकी है और दिल्ली के लोगों को मामूली बारिश में भी जलभराव व घंटों जाम का सामना करना पड़ रहा है. 

आप सरकार आने के बाद बढ़ी मुश्किलें 
माकन ने कहा कि जब से दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार आयी है दिल्ली में मानसून में जलभराव तथा पानी से पैदा होने वाली बीमारियों में वर्ष प्रति वर्ष बढ़ौत्तरी हो रही है. उन्होंने कहा कि यदि केजरीवाल सरकार ने गंभीरता दिखाते हुए मानसून में होने वाले जलभराव पर कोई योजना बनाई होती तो इस पानी को संरक्षित करके दिल्ली के तेजी से घटते जल स्तर को बढ़ाया जा सकता है. भाजपा पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि मोदी सरकार स्वच्छ भारत की तो बात करती है परंतु भाजपा शासित नगर निगम दिल्ली को साफ रखने में असफल साबित हुई है. इसके चलते मानसून की थोड़ी बारिश होते ही दिल्ली में जल भराव तथा घंटों के यातायात जाम दिल्ली के लोगों के लिए परेशानी का सबब बन गया है. 

ये भी पढ़ें : दिल्‍ली में 9.1 तीव्रता का भूकंप आएगा? इस वायरल मैसेज की पढ़ें पूरी सच्‍चाई

पिछले तीन सालों में लोगों की बढ़ी चुनौतियां 
अजय माकन ने कहा कि दिल्ली में आप पार्टी एवं भाजपा के बीच की लड़ाई का खामियाजा दिल्लीवासियों को भुगतना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि बीते तीन वर्षों की तरह ही इस वर्ष भी बारिश का मजा लेने की जगह लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार या निगम ने इस समस्या से निपटने के लिए समय रहते कोई कदम नहीं उठाया. दिल्ली के नालों की सफाई 15 जून तक हो जानी चाहिए थी, लेकिन उस समय अरविंद केजरीवाल अपने मंत्रियों सहित उपराज्यपाल निवास के एसी कमरे में धरना देने में व्यस्त थे. 

पानी बचाने की नहीं बनाई योजना 
माकन ने कहा कि दिल्ली में पानी की समस्या का समाधान करने के लिए यदि केजरीवाल सरकार गंभीरता होती बारिश के पानी को संरक्षित कर दिल्ली के तेजी से घटते हुए जल स्तर को बढ़ाया जा सकता था. लेकिन सरकार अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए उपराज्यपाल एवं प्रशासनिक अधिकारियों से लड़ाई का दिखावा करने में व्यस्त रही. दिल्ली की समस्याओं को सुलझाने के लिए उनके पास समय ही नहीं है. 

ये भी पढ़ें : दिल्ली की कोर्ट में महिला वकील से रेप, साकेत कोर्ट के चैंबर में हुई वारदात

करोड़ों रुपये के ईंधन का हुआ नुकसान
माकन ने कहा कि दिल्ली में सोमवार को बारिश के बाद मिंटो ब्रिज, राजा गार्डन, मायापुरी, आजाद मार्किट,रमेश नगर आदि जगहों पर बड़े पैमाने पर जलभराव देखा गया. जलभराव से जगह - जगह लगेे जाम से करोड़ रुपये के इंधन का नुकसान हुआ. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार स्वच्छ भारत की बात करती है लेकिन भाजपा शासित नगर निगम दिल्ली को साफ रखने में असफल साबित हुई है.