देशभर में एक हजार रैलियां करेगी BJP, नागरिकता कानून पर भ्रम दूर करने का मेगा प्लान

10 दिन के संपर्क अभियान में 3 करोड़ परिवार तक पहुंच बनाएगी बीजेपी

देशभर में एक हजार रैलियां करेगी BJP, नागरिकता कानून पर भ्रम दूर करने का मेगा प्लान
बीजेपी दफ्तर में पत्रकारों से बात करते हुए पार्टी महासचिव भूपेंद्र यादव.

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) के खिलाफ देशभर में सरकार के खिलाफ लगातार चल रहे प्रदर्शन को देखते हुए अब भारतीय जनता पार्टी (BJP) संगठन ने जनता के बीच पहुंचकर भ्रम दूर करने की कमान संभाली है. दिल्ली में शनिवार को बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सभी प्रदेशों के संगठन महासचिवों, प्रवक्ताओं और पार्टी के पदाधिकारियों के साथ बैठक की. इसमें में तय हुआ कि पार्टी विपक्ष के झूठ के बेनकाब करने के लिए सीधे जनता के बीच पहुंचकर असलियत बताएगी.

संसद में नागरिकता संशोधन विधेयक पास होने के बाद जैसे ही इसने कानून की शक्ल ली देश भर में विरोध एक साथ बढ़ गया. बीजेपी का मानना है कि विपक्ष लगातार जनता में अफवाह और भ्रम फैला रहा है. खासतौर से मुस्लिम तबके में बड़े पैमाने पर अफवाह फैलाई जा रही है कि उनको देश से निकाल दिया जाएगा. लिहाजा अब सरकार के साध कंधे से कंधा मिलाने के लिए पार्टी अपने कैडर को जनता के बीच उतारना शुरू करेगा.

किसी को डरने की जरूरत नहीं
बैठक के बाद बीजेपी दफ्तर में पत्रकारों से बात करते हुए पार्टी महासचिव भूपेंद्र यादव ने कहा कि हम अगले 10 दिन में देशभर के 3 करोड़ परिवारों तक पहुंचकर उनको असलियत समझायेंगे कि इस कानून से किसी को डरने की जरूरत नहीं है.

भाजपा का मानना है कि नागरिकता संशोधन कानून के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में धार्मिक प्रताड़ना के शिकार हुए अनेकों लोगों को नई आशा, विश्वास, सुरक्षा, आस्था, गरिमापूर्ण जीवन देने का मार्ग प्रशस्त हुआ है.

आरोप- कांग्रेस नेता लगातार लोगों को भड़का रहे
पिछले एक सप्ताह से कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी पार्टियां सरकार के खिलाफ सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रही हैं. कई राज्यों में और कई यूनिवर्सिटीज में प्रदर्शन हुए हैं. बीजेपी कह रही है कि कांग्रेस के नेता लगातार लोगों को भड़का रहे हैं और सीएए और एनआरसी पर भ्रम फैला रहे हैं.

VIDEO: दिल्ली हिंसा में फेंके गए थे पेट्रोल-बम, हमलावर का हाथ भी विस्फोट में उड़ा

लिहाजा सरकार के साथ ही पार्टी भी लोगों के इस भ्रम को दूर करना चाहती ह. इस सप्ताह के दौरान दिल्ली, यूपी समेत  कई राज्यों में  पथराव, तोड़फोड़ और हिंसा की खबरों से सरकार हैरान है. इसको लेकर बीजेपी ने अपने कैडर को एक्टिव किया है जिससे लोग सही तथ्य समझ सकें और अनावश्यक विरोध की आग न फैले.