नागरिकता कानून का विरोध, दरियागंज हिंसा मामले में 15 लोग गिरफ्तार

शुक्रवार को दिल्ली की जामा मस्जिद में नागरिकता कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन हुआ था. प्रदर्शऩकारी जुमे की नामज के बाद जंतर-मंतर तक मार्च निकालना चाह रहे थे.

नागरिकता कानून का विरोध, दरियागंज हिंसा मामले में 15 लोग गिरफ्तार
दिल्ली के दरियागंज में उपद्रवियों ने थाने के बाहर खड़ी गाड़ी में आग लगा दी थी. (फोटो-IANS)

नई दिल्ली: नागरिकता (संशोधन) कानून (CAA)  के खिलाफ दिल्ली के दरियागंज में शुक्रवार को हुए हिंसक प्रदर्शन के मामले में दिल्ली पुलिस ने आज 15 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. इन सभी के खिलाफ शांति भंग करना, दंगा फलाने का केस दर्ज किया गया है. सभी आरोपियों को आज दोपहर 2 बजे बाद तीस हजारी कोर्ट में पेश किया जाएगा. इन लोगों ने शुक्रवार शाम को दरियागंज डीसीपी ऑफिस के बाहर खड़ी कार में आग लगा दी गई थी.जिसके बाद भीड़ ने पुलिस पर पथराव भी किया था और कई अन्य गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया था.

ऐसा बताया जा रहा है कि इन 15 लोगों में से ज़्यादातर सीलमपुर और जाफराबाद के हैं. ये लोग दरियागंज इलाके में उपद्रव करने पहुंचे थे. वहीं सीमापुरी से हिरासत में लिए गए 5 लोग गाजियाबाद के शहीद नगर के रहने वाले हैं. जो नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में माहौल खराब करने पहुंचे थे.

शुक्रवार (20 दिसंबर) को दिल्ली की जामा मस्जिद में नागरिकता कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन हुआ था.प्रदर्शऩकारी जुमे की नामज के बाद जंतर-मंतर तक मार्च निकालना चाह रहे थे. जिसे पुलिस ने दिल्ली गेट पर ही रोक दिया था. शाम को प्रदर्शऩकारियों ने दरियागंज डीसीपी ऑफिस के बाहर खड़ी गाड़ी में आग लगा दी थी. उपद्रवियों को खदेड़ने के लिए पुलिसबल को पानी की बौछारों का इस्तेमाल करना पड़ा. बवाल के बाद दरियागंज में भारी पुलिस बल तैनात किया गया.

इस बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी इंडिया पर प्रदर्शनकारियों को समर्थन देने पहुंच गईं. दिल्ली गेट हिंसा मामले में 7 पुलिसकर्मी और 21 लोग घायल हुए हैं. घायलों का LNJP अस्पताल में इलाज चल रह है. उधर, प्रदर्शनकारी देर रात दिल्ली पुलिस मुख्यालय पर धरने पर बैठ गए. प्रदर्शनकारी हिरासत में लिए गए लोगों को छोड़ने की मांग कर रहे हैं.

इससे पहले, कांग्रेस नेत्री प्रियंका ने कहा, ''मैं प्रदर्शनकारियों के साथ हूं. नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी गरीबों के खिलाफ हैं. गरीब इससे सबसे अधिक प्रभावित होंगे. दिहाड़ी मजदूर नागरिकता के लिए दस्तावेज कहां से लाएंगे?''

वहीं, उन्होंने कहा कि प्रदर्शन शांतिपूर्ण तरीके से होने चाहिए.''

थाने के बाहर खड़ी कार को आग लगाई
दिल्ली स्थित जामा मस्जिद पर शुक्रवार की नमाज के बाद भारी विरोध-प्रदर्शन देखने को मिला. इसके बाद कई स्थानों पर निषेधाज्ञा के बावजूद भीड़ इकट्ठा हुई और प्रदर्शन किया. यहां तक कि कुछ महिला प्रदर्शनकारियों को भी प्रदर्शन में देखा गया. इसी भीड़ ने शांतिपूर्ण मार्च निकालने के नाम पर दौरान दिल्ली गेट और दरियागंज इलाके में उपद्रव किया. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया और डीसीपी थाने के बाहर खड़ी कार को आग लगा दी.

Daryaganj

16 मेट्रो स्टेशन बंद

प्रदर्शकारियों के हंगामे को देखते हुए केंद्रीय सचिवालय, चावड़ी बाजार, चांदनी चौक, राजीव चौक, दिल्ली गेट, लाल किला, जामा मस्जिद, खान मार्केट, जनपथ, प्रगति मैदान, मंडी हाउस, जामिया मिलिया इस्लामिया, जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, शिव विहार और जौहरी एन्क्लेव मेट्रो स्टेशनों को फिलहाल बंद कर दिया गया है. इन स्टेशनों पर ट्रेनें नहीं रुकेंगी.

रोड ट्रैफिक पर असर
इसके अलावा दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने प्रदर्शन के कारण मंडी हाउस से आईटीओ तक सड़क ट्रैफ़िक रोक दिया. वाहन चालकों से गुजारिश है कि इन रास्तों पर जाने से बचें.

 

 

नागरिकता (संशोधन) अधिनियम के खिलाफ इंडिया गेट, जंतर मंतर, जेएनयू और जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय सहित पूरी दिल्ली में जमकर प्रदर्शन हो रहे हैं.

देखें- LIVE TV