close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली के परिवहन मंत्री ने कहा, 'मेट्रो से लोगों को निकालने में लगा ज्यादा समय'

येलो लाइन पर तकनीकी खामी आने के कारण कम से कम चार घंटे तक सेवा बाधित रही जिससे हजारों यात्री सड़क पर, मेट्रो कोच के भीतर फंसे रहे.

दिल्ली के परिवहन मंत्री ने कहा, 'मेट्रो से लोगों को निकालने में लगा ज्यादा समय'
(फोटो साभार - @OfficialDMRC)

नई दिल्ली: परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने डीएमआरसी को लिखे एक पत्र में कहा है कि मंगलवार को दिल्ली मेट्रो की येलो लाइन पर सेवाओं के बाधित रहने के दौरान दो ट्रेनों से यात्रियों को बाहर निकालने में बहुत ज्यादा वक्त लगा .

दिल्ली के परिवहन मंत्री ने दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के प्रबंध निदेशक को 2011 से दिल्ली मेट्रो की सेवाओं में अवरोध आने की सभी घटनाओं की जानकारी मांगी है. साथ ही सेवा बाधित होने की वजह भी बताने को कहा गया है. 

चार घंटे तक सेवा बाधित रही
येलो लाइन पर तकनीकी खामी आने के कारण कम से कम चार घंटे तक सेवा बाधित रही जिससे हजारों यात्री सड़क पर, मेट्रो कोच के भीतर फंसे रहे. इस वजह से गुरुग्राम से नयी दिल्ली की ओर जाने वाली सड़क पर यातायात भी प्रभावित हुआ .

सुबह नौ बजकर 32 मिनट पर सेवा बाधित हो गई
गुरुग्राम में हुडा सिटी सेंटर और दिल्ली में समयपुर बादली को जोड़ने वाली 49 किलोमीटर लाइन पर सुबह नौ बजकर 32 मिनट पर सेवा बाधित हो गई. डेढ़ बजे के बाद ही सामान्य सेवाएं बहाल हो पाई.

मंत्री ने कहा है कि डीएमआरसी को ऐसी घटनाओं के बारे में अपने ट्विटर हैंडल से लोगों को अवगत कराना चाहिए ताकि कोई अफरातफरी नहीं हो और लोग घटना से वाकिफ रहे .