close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उम्मीद है कि गौतम गंभीर धूल भरी सड़कों पर लोगों से मिलेंगे: AAP

गौतम गंभीर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा था कि चुनाव आते-जाते रहेंगे लेकिन किसी को स्वविवेक नहीं खोना चाहिए.

उम्मीद है कि गौतम गंभीर धूल भरी सड़कों पर लोगों से मिलेंगे: AAP
बीजेपी सांसद गौतम गंभीर और आप नेता सौरभ भारद्वाज (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी ने पूर्वी दिल्ली से नवनिर्वाचित सांसद गौतम गंभीर पर शनिवार को तंज कसते हुए कहा कि क्रिकेटर को धूल भरी सड़कों पर जनता से मिलना चाहिए और अपने हमशक्ल को भेजकर जनता को ‘धोखा नहीं’ देना चाहिए जैसा उन्होंने चुनाव प्रचार के दौरान किया था.

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने बयान जारी कर कहा,‘सभी सातों बीजेपी सांसदों को दिल्ली पुलिस, डीडीए (दिल्ली विकास प्राधिकरण) और एमसीडी (दिल्ली नगर निगम) पर काम करने के लिए बधाई. ये सभी विभाग सीधे-सीधे केंद्र सरकार के अंतर्गत आते हैं और इस संबंध में काफी कुछ किए जाने की आवश्यकता है.’

उन्होंने कहा, ‘गंभीर ने चिलचिलाती गर्मी में चुनाव प्रचार के लिए अपने हमशक्ल को भेजा था जबकि वह खुद एयर-कंडीशन कार में बैठे हुए थे. अगर वह धूल फांकती और चिलचिलाती गर्मी में लोगों से मुलाकात करें तो जनता उन्हें माफ कर देगी.’

लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया था कि गंभीर ने गर्मी से बचने के लिये चुनाव प्रचार में अपने ‘‘हमशक्ल’’ का इस्तेमाल किया.

गंभीर ने साधा केजरीवाल पर निशाना
इससे पहले शनिवार को क्रिकेटर से नेता बने बीजेपी के गौतम गंभीर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर ‘अभद्र पर्चे’ को लेकर निशाना साधते हुए कहा कि चुनाव आते-जाते रहेंगे लेकिन किसी को स्वविवेक नहीं खोना चाहिए. पूर्वी दिल्ली से आप (आम आदमी पार्टी) की उम्मीदवार आतिशी मार्लेना के खिलाफ एक ‘अभद्र पर्चा’ सामने आया था, जिसके लिए आप के नेता गंभीर पर आरोप लगा रहे थे.

बीजेपी सांसद ने केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा, 'मेरे पास उनके लिए कोई शब्द नहीं हैं कि वह सिर्फ एक सीट जीतने के लिए इस तरह के आरोप लगा सकते हैं. आप एक चुनाव हार सकते हैं और आगे बढ़ सकते हैं लेकिन कोई स्वविवेक खोकर खुद के सामने कैसे खड़ा हो सकता है?’

उन्होंने कहा कि चुनाव आते-जाते रहेंगे लेकिन जिस दिन ‘आप स्वविवेक खो बैठते हैं, आप सबकुछ खो बैठते’ हैं. बीजेपी के दिल्ली इकाई कार्यालय में गंभीर मीडियाकर्मियों को यहां राष्ट्रीय राजधानी के अन्य नव-निर्वाचित सांसदों के साथ संबोधित कर रहे थे.