close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रोहित शेखर मर्डर केस में क्राइम ब्रांच की 2 टीमों की अलग-अलग राय से उलझी मौत की गुत्थी, बढ़ा सस्पेंस

मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच की 2 टीमों में से एक ने जहां रोहित की हत्या में पत्नी अपूर्वा का हाथ होने का शक जताया है तो वहीं दूसरी टीम पत्नी को शक के दायरे से बाहर रख रही है.

रोहित शेखर मर्डर केस में क्राइम ब्रांच की 2 टीमों की अलग-अलग राय से उलझी मौत की गुत्थी, बढ़ा सस्पेंस
फाइल फोटो

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व राज्यपाल एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की मौत की गुत्थी है कि उलझती ही जा रही है. रोहित शेखर की मौत में शुक्रवार को जहां हत्या का नया मोड़ सामने आया, वहीं अब मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच की 2 टीमों की तफ्तीश ने मामले को और उलझा दिया है. मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच की 2 टीमों में से एक ने जहां रोहित की हत्या में पत्नी अपूर्वा का हाथ होने का शक जताया है तो वहीं दूसरी टीम पत्नी को शक के दायरे से बाहर रख रही है. रोहित की हत्या के मामले से पर्दा हटाने के लिए क्राइम ब्रांच की टीम ने घर में सीन रीक्रिएट भी किया, जिसमें टीम ने कई अहम लीड पर तफ्तीश कर रही है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रोहित शेखर तिवारी के घर पांच लैंड लाइन फोन हैं, जिनमें से 3 MTNL और 2 एयरटेल के हैं. इनमें से एयरटेल फोन पर नेट चलता है. बता दें नेटवर्क प्रॉब्लम होने के कारण रोहित शेखर तिवारी के घर में अधिकतर लोग लेंडलाइन का ही इस्तेमाल करते हैं, मोबाइल का इस्तेमाल घर से बाहर जाने पर ही होता है. आस-पास के लोगों ने भी बताया कि डिफेंस कॉलोनी के जिस इलाके में रोहित शेखर और उनका परिवार रहता था, वहां नेटवर्क की काफी समस्या है, जिसके चलते अधिकतर लोग लेंडलाइन का इस्तेमाल करते हैं.

https://hindi.cdn.zeenews.com/hindi/sites/default/files/2018/04/08/221642-nd-tiwari-son-wed.jpg

रोहित शेखर की मां ने कहा- पत्नी के साथ उसके रिश्ते अच्छे नहीं थे, दोनों में होता था झगड़ा

बता दें पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि रोहित की मौत हार्ट अटैक की वजह से नहीं बल्कि हार्ट-अटैक की वजह से हुई है. दिल्ली पुलिस ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है. वहीं क्राइम ब्रांच की टीम ने रोहित के घर और रोहित के कमरे (जहां रोहित की लाश पड़ी हुई थी) का मुआयना किया है और फोरेंसिक टीम ने घटना स्थल से कुछ सैंपल और फिंगर प्रिंट भी जुटाए हैं, जिसके आधार पर जांच की जा रही है.

एनडी तिवारी के बेटे रोहित का मुंह दबाकर हुई हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा

पोस्टमार्टम में रोहित शेखर की मौत को अस्वाभाविक बताया गया है. बता दें दिल्ली की क्राइम ब्रांच टीम रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा से लगातार पूछताछ कर रही है. रोहित शेखर की मां ने बताया था कि वोट डालने के लिए हम 12 अप्रैल को उत्तराखंड गए थे. जहां से 15 अप्रैल को हम दिल्ली स्थित डिफेंस कॉलोनी अपने घर आ गए. इसके बाद शेखर तिलक लेन वाले घर चला गया. थोड़ी देर बाद मैं भी वहां चली गई और शेखर वहां से वापस आ गया. मैं जब वापस आई तो मैंने अपूर्वा से पूछा कि शेखर कहां है तो उसने बताया कि वह खाना खा कर सो गए हैं. 

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बड़ा खुलासा, करीब 15 घंटे तक घर में मृत पड़े रहे रोहित शेखर

कुछ देर बाद शेखर उठकर आ गया. फिर उसने मुझे कार में बैठाया और हम तिलक लेन वाले घर चले गए. दोपहर में 2 बजे वापस गए. फिर मैं अस्पताल चली गई, क्योंकि मेरे अंगूठे में दर्द था. जाने से पहले मैंने अपूर्वा से पूछा की रोहित क्या कर रहा है तो उसने बताया सो रहा है. मैं अस्पताल में थी तभी रमेश का फोन आया कि जल्दी आइये शेखर को लेकर अस्पताल जाना है. फिर मैंने रोहित के दोस्त को फोन किया और घर पहुंची. एंबुलेंस आई और हम शेखर को लेकर अस्पताल पहुंचे.