CAA के विरोध में जामिया के छात्रों का प्रदर्शन, मंडी हाउस से जंतर-मंतर निकालेंगे मार्च

ऐसी भी खबर है कि जामिया के छात्रों के मार्च के लिए दो रूट हो सकते हैं, या तो ये मार्च मंडी हाउस से फ़िरोज़ शाह रोड, अकबर रोड से होते हुए जंतर मंतर पहुंचेगा या फिर ये मार्च मंडी हाउस से बाराखंभा रोड, विंडसर प्लेस से होते हुए जनपथ के रास्ते जंतर मंतर पहुंचेगा. 

CAA के विरोध में जामिया के छात्रों का प्रदर्शन, मंडी हाउस से जंतर-मंतर निकालेंगे मार्च

नई दिल्ली: नागरिकता कानून को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए भरोसे बावजूद कुछ संगठन आज भी इस कानून के खिलाफ प्रदर्शन करने पर अड़े हैं. दिल्ली की जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के छात्रों का मंडी हाउस से मार्च शुरू हो गया है. ये मार्च मंडी हाउस से जंतर-मंतर तक निकाला जा रहा है. बाराखंभा रोड पर पुलिस ने बैरिकेटिंग लगा दी है. प्रदर्शकारी इकट्ठा होना शुरू हो गए है. जामिया के छात्र और 'वी द पीपल' के बैनर तले सीएए और एनआरसी के विरोध में 12 बजे मार्च निकालेंगे. लेकिन पुलिस ने इलाके में धारा 144 लगा दी है. पुलिस की 3 कंपनी और सीआरपीएफ की 2 कंपनियां तैनात की गई है.

दिल्ली वालों को किसी भी तरह से परेशानी ना हो इसलिय दिल्ली पुलिस ने आज मंडी हाउस ओर बरखम्बा रोड, टॉल्सटॉय मार्ग को बंद नही किया. पुलिस रस्सी बांध कर एक मानव चैन बनाकर प्रोटेस्टर के साथ चल रही थी. ताकि प्रोटेस्ट भी निकल जाए और ट्रैफिक जाम ना हों.

जामिया कॉर्डिनेशन कमेटी ने अपील की है कि 24 दिसंबर को नेशनल प्रोटेस्ट डे मनाते हुए सीएए, एनआरसी और पुलिस एक्शन का विरोध किया जाए. मार्च दोपहर 12 बजे मंडी हाउस से शुरू होकर पार्लियामेंट स्ट्रीट तक जाएगा. इस कमेटी ने स्टूडेंट्स, आर्गनाइजेशन और बीजेपी के राजनीतिक विरोधियों से भी अपील की है कि प्रदर्शन में शामिल हों. कमेटी का कहना है कि इस प्रदर्शन से यह संदेश जाना चाहिए कि भारत की जनता पुलिस के दमन से नहीं डरती और सांप्रदायिक राजनीति के खिलाफ वे अहिंसा पर चलते हुए अपना संघर्ष जारी रखेंगे.

ऐसी भी खबर है कि जामिया के छात्रों के मार्च के लिए दो रूट हो सकते हैं, या तो ये मार्च मंडी हाउस से फ़िरोज़ शाह रोड, अकबर रोड से होते हुए जंतर मंतर पहुंचेगा या फिर ये मार्च मंडी हाउस से बाराखंभा रोड, विंडसर प्लेस से होते हुए जनपथ के रास्ते जंतर मंतर पहुंचेगा. 

दिल्ली पुलिस ने भी आज जामिया मिलिया के छात्रों के मार्च के चलते कालिंदी कुंज और मथुरा रोड के बीच की रोड नंबर 13ए को बंद कर दिया गया है. लोगों से अपील की है वह दिल्ली आने और नोएडा जाने के लिए डीएनडी और अक्षरधाम मार्ग का इस्तेमाल करें.

AAP विधायक अमानतुल्ला खान के खिलाफ एफआईआर दर्ज, हिंसा फैलाने का आरोप
उत्तर प्रदेश की गाजियाबाद पुलिस ने दिल्ली के ओखला से आम आदमी पार्टी (AAP) के विधायक अमानतुल्ला खान (Amanatullah Khan) के खिलाफ गैर जमानती धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की है. खान पर सोशल मीडिया पोस्ट के ज़रिए एनआरसी और सीएए को लेकर हिंसा भड़काने और आईटी एक्ट का उल्लंघन करने समेत कई आरोप हैं.

अमानतुल्ला खान ने अपने फेसबुक और ट्विटर अकाउंट के जरिए हिंसा में घायल लोगों को 5 लाख रुपए और सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया था. इसके बाद गाज़ियाबाद में हिंसा भड़की और शिकायत के आधार पर केस दर्ज किया गया है. गाज़ियाबाद की कोतवाली पुलिस जल्द ही अमानतुल्ला खान को गिरफ्तार कर सकती है.

पुलिस ने बताया कि शिकायत के आधार पर आम आदमी पार्टी के दिल्ली के ओखला विधायक अमानतुल्ला खान के खिलाफ आईपीसी की धारा 155, 295 ए, 298, 505(1)(बी) और आईटी एक्ट की धारा 67 के तहत केस दर्ज कर लिया है.

5 लाख रुपये का ऐलान करके फंसे
पुलिस ने बताया कि पंचवटी के रहने वाले हरिओम पांडेय ने अमानतुल्ला खान के खिलाफ शिकायत दी थी. हरिओम ने आरोप लगाया कि एनआरसी और सीएए को लेकर देशभर में बवाल किया जा रहा है. आम आदमी पार्टी के विधायक ने फेसबुक पर फोटो के साथ पोस्ट डाली थी कि जो भी घायल होगा, उसे वह 5 लाख रुपये और सरकारी जमीन देंगे. इतना ही नहीं, सभी को मुफ्त इलाज भी देने की बात कही थी.

भड़काने के लिए विधायक ने पोस्ट डाली
शिकायतकर्ता हरिओम का आरोप है कि कानून-व्यवस्था का उल्लंघन करने वालों और पुलिस पर हमला करने वाले लोगों को भड़काने के लिए विधायक ने यह पोस्ट डाली है. आरोप है कि 18 दिसंबर की इस पोस्ट के बाद ही 20 दिसंबर को जुमे की नमाज के बाद यूपी व देश के अन्य हिस्सों में विरोध किया गया.