कोलकाता ATM कांड में एक और रोमानियन आरोपी के नाम का खुलासा, दिल्ली के रोहिणी जेल में है बंद

 कोलकाता पुलिस की एक टीम दिल्ली जेल में बंद आरोपी से पूछताछ करने के लिए जल्द ही दिल्ली पहुंचेगी. 

कोलकाता ATM कांड में एक और रोमानियन आरोपी के नाम का खुलासा, दिल्ली के रोहिणी जेल में है बंद

अर्णबांगशु नियोगी, कोलकाता: पश्चिम बंगाल के कोलकाता एटीएम कांड के मुख्य आरोपी रोमानियन नागरिक सिलिविउ फ्लोरिन स्प्रीडन (28 साल) से पूछताछ में कोलकाता पुलिस को एक और रोमानियाई का नाम पता चला है, स्प्रीडन ने बताया कि फ़िलहाल ये रोमानियन दिल्ली के रोहिणी (Rohini) जेल में बंद है. कोलकाता पुलिस (Kolkata Police) की एक टीम दिल्ली जेल में बंद आरोपी से पूछताछ करने के लिए जल्द ही दिल्ली पहुंचेगी. इस रोमानियाई का नाम तौसिफ मोरारुक बताया जा रहा है.

पूछताछ में कोलकाता पुलिस को ये भी पता चला है की दिल्ली में सिलिविउ फ्लोरिन स्प्रीडन जहाँ रहता था उसका किराया 4000 हज़ार प्रति दिन था. रोहिणी जेल में बंद आरोपी तौसिफ मोरारुक को पुलिस ने बिना visa के भारत में रहने के लिए गिरफ्तार किया था. फ़िलहाल अभी तक दिल्ली पुलिस को ये पता नहीं चल पाया है की तौसिफ मोरारुक ATM कांड में जेल में बंद होने के बावजूद स्प्रीडन और उसके अन्य साथियो को मदद कैसे करता था. 

आपको बता दें कि कोलकाता के साथ-साथ दिल्ली और मुंबई (Mumbai) में भी ATM से चोरियां हो रही है. कोलकाता (Kolkata) में पिछले 26 दिनों में कुल 230 शिकायतें दायर हुई हैं. यह रोमानियन गैंग भारत में प्रवेश कर डेढ़ महीने तक रुकते हैं और पहले ATM की रेकी करते है, दूसरी बार स्किम्मर लगाते हैं और तीसरी बार पैसे निकाल लेते हैं. कोलकाता एटीएम कांड में सिलिविउ फ्लोरिन स्प्रीडन की पहली गिरफ़्तारी है, आरोपी ग्रेटर कैलाश इलाके में किराये के मकान में रहता था और सोमवार (9 दिसंबर) शाम के समय इसे गिरफ्तार किया गया था. पकड़े गए आरोपी में से अन्य 3 आरोपी अभी फरार है. यह सभी आरोपी टूरिस्ट वीजा पर भारत आते है और ऐशो आराम की ज़िंदगी जीने के लिए इस तरह की घटनाओ को अंजाम देते हैं . 

ये भी देखें:-