close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में उछाल जारी, आज इतने हो गए दाम

बता दें कि पिछले कुछ दिनों से पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है.

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में उछाल जारी, आज इतने हो गए दाम
शुक्रवार को भी हुई दामों में बढ़ोतरी. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार उछाल जारी है. शुक्रवार को दिल्‍ली में पेट्रोल के दामों में 8 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी दर्ज की गई. इससे पेट्रोल के दाम 70 रुपये प्रति लीटर हो गए. वहीं डीजल के दाम 19 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि के साथ शुक्रवार को 64.97 रुपये प्रति लीटर हो गए. बता दें कि पिछले कुछ दिनों से पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है.

वहीं आर्थिक राजधानी मुंबई में भी शुक्रवार को पेट्रोल और डीजल के दामों में वृद्धि दर्ज की गई है. यहां पेट्रोल के दाम 7 पैसे प्रति लीटर बढ़कर 76.18 रुपये प्रति लीटर हो गए. वहीं डीजल के दाम 20 पैसे प्रति लीटर बढ़कर 68.02 रुपये प्रति लीटर हो गए.

बता दें कि गुरुवार को राजधानी दिल्‍ली में पेट्रोल की कीमतों में 14 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी दर्ज की गई थी. इससे यहां पेट्रोल के दाम 70.47 रुपये प्रति लीटर हो गए थे. वहीं राजधानी में डीजल के दामों में 19 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी होने के बाद इसकी कीमतें यहां गुरुवार को 64.78 रुपये प्रति लीटर पहुंच गई थीं.


फाइल फोटो

वहीं आर्थिक राजधानी मुंबई में गुरुवार को पेट्रोल की कीमतों में 14 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी दर्ज की गई थी. इससे यहां पेट्रोल के दाम 76.11 रुपये प्रति लीटर हो गए थे. इसके साथ ही डीजल के दामों में 20 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी के बाद इसके रेट गुरुवार को 67.82 रुपये प्रति हो गए थे.

जानकारों को उम्मीद है कि इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमतों में अभी तेजी बनी रहेगी. आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल में महंगाई का रुख बना रह सकता है. 27 दिसंबर से लगातार कच्चे तेल के महंगा होने का सिलसिला जारी है. अभी ब्रेंट क्रूड 60 डॉलर प्रति बैरल के करीब चल रहा है. अगर कच्चा तेल इस स्तर से और ऊपर जाता है तो पेट्रोल की कीमतों में 1 से दो रुपये तक का इजाफा हो सकता है. पिछले दिनों कच्चे तेल की कीमत 50 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर पहुंच गई थी.