जेल में बंद पंजाब के नामी गैंगस्टर को जान का खतरा, हाईकोर्ट की अपील

गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया के वकील प्रदीप विर्क ने बताया कि जग्गू ने पटियाला की जेल में अपनी जान का खतरा बताते हुए जेल बदलने और सुरक्षा देने के लिए हाईकोर्ट का रूख किया है.वकील प्रदीप विर्क ने बताया कि पुलिस उसे भगा कर एनकाउंटर करने का प्लान बना रही है.

जेल में बंद पंजाब के नामी गैंगस्टर को जान का खतरा, हाईकोर्ट की अपील
गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया

चंडीगढ़: पटियाला जेल में बंद गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया ने जेल में जान का ख़तरा बताते हुए जेल शिफ्ट करने की मांग पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट से की है. भगवानपुरिया की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने पंजाब सरकार, डीजीपी पंजाब और जेल विभाग के अधिकारीयों को 21 जनवरी के लिए नोटिस जारी किया है. कोर्ट ने पुलिस प्रमुख को भगवानपुरिया पर दर्ज की गई एफआईआर का ब्योरा व शिकायतकर्ता की सूची भी देने को कहा है. 

गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया के वकील प्रदीप विर्क ने बताया कि जग्गू ने पटियाला की जेल में अपनी जान का खतरा बताते हुए जेल बदलने और सुरक्षा देने के लिए हाईकोर्ट का रूख किया है.वकील प्रदीप विर्क ने बताया कि पुलिस उसे भगा कर एनकाउंटर करने का प्लान बना रही है. इसलिए जेल में उसकी जान को खतरा है. याचिका में जग्गू दृारा ये भी कहा गया है कि उसका कोई पॉलिटिकल लिंक नहीं है, न तो वो पंजाब के जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा का आदमी है और न ही बिक्रम सिंह मजीठिया के साथ उसका कोई संबंध है.

वकील प्रदीप विर्क ने बताया कि जग्गू पर झूठे केस प्लांट किये जा रहे है. वकील विर्क ने कहा कि जब जग्गू पटियाला जेल में बंद है तो बाहर उसके खिलाफ नए मामले कैसे दर्ज हो सकते है, उसने जेल में टॉर्चर किये जाने की बात भी याचिका में कही है. वकील प्रदीप विर्क ने कहा कि उन्हें यह भी नही मालूम कि जग्गू भगवानपुरिया किस केस में जेल में है.जग्गू यह भी  नहीं जानता कि उस पर अब तक कितने केस रजिस्टर किए जा चुके है. वकील का कहना है कि याचिकाकर्ता को जेल से भागने के लिए बार बार उकसाया जा रहा है और मौके भी दिए जा रहे है लेकिन जग्गू भगवानपुरिया का कहना है कि अगर वह जेल से भागता है तो उसका एनकाउंटर कर दिया जाएगा जिसकी धमकिया उसे कई बार दी जा चुकी है.

एडवोकेट प्रदीप विर्क का कहना है कि जग्गू के खिलाफ अभी तक अलग अलग थानों में 80 से भी अधिक एफआईआर दर्ज की जा चुकी है उन्होंने बताया की हमने याचिका में कोर्ट को 44 केसों की सूची भी कोर्ट को दी है, जिनमें से 29 एफआईआर अमृतसर के एक ही इलाके के पुलिस स्टेशन में दर्ज की गई है. याचिका के माध्यम से भगवानपुरिया ने मांग की है कि उसे पटियाला से अमृतसर जेल में शिफ्ट किया जाए नहीं तो गैंगस्टर सुक्खा काहलवां की तरह उसे भी साज़िश रचकर मरवा दिया जाएगा. क्योकि बार बार उसे पटियाला से अमृतसर लेजाया जाता है और उसे किसी भी वक्त मारा या मरवाया जा सकता है. 

फेसबुक और ट्विटर पर सक्रीय रहने और जेल में बर्थडे पार्टी की तस्वीरें शेयर करने वाले भगवानपुरिया के वकील ने कहा कि अगर उसे जेल में उक्त सुविधाएं मुहैया करवाई जा रही हैं तो यह जेल स्टाफ की नलायकी है जिसकी जांच होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि पुलिस दावे कर रही है कि वह जेल में रहते हुए गैंग चला रहा है जोकि निराधार है बल्कि सच्चाई यह है कि वह जेल में खौफ के साये में दिन काट रहा है. 

आपको बता दें कि जग्गू भगवानपुरिया इस समय पटियाला के जेल में बंद है. जग्गू भगवानपुरिया के कई नेताओं के साथ लिंकअप की खबरें सामने आ रही है. सुखजिंदर रंधावा ने जग्गू को मजीठिया का आदमी बताया तो मजीठिया ने उसे रंधावा का आदमी बताया है, जिससे पंजाब की राजनीति में काफी खलबली मची हुई है.

ये भी देखें-:

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.