यमुनानगर: फैक्ट्री पर हमला मामले में 5 लोगों को मिली जमानत

आरोप है कि विरोध कर रहे लोगों पर खनन माफिया ने डंपर को चढ़ाने की कोशिश की थी. हालांकि इसमें किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा था. बताया जा रहा है कि इस मामले की जो देखरेख कर रहे थे रोशन लाल कंबोज वह भी इसमें शामिल थे.

यमुनानगर: फैक्ट्री पर हमला मामले में 5 लोगों को मिली जमानत

कमरजीत सिंह विर्क, यमुनानगर: यमुनानगर के बुढ़िया थाना क्षेत्र के अंदर पिछले दिनों एक फैक्ट्री पर हुए हमले को लेकर पुलिस ने अभी तक 5 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिसमें सभी को जमानत पर रिहा कर दिया गया है. अब जांच में यह मामला खनन माफिया से जुड़ा हुआ दिख रहा है. बताया जा रहा है कि खनन माफिया के पिछले दिनों रेत के ओवरलोड ट्रक गांव सभा पुरा से निकल रहे थे, लोगों ने इसका विरोध किया था.

आरोप है कि विरोध कर रहे लोगों पर खनन माफिया ने डंपर को चढ़ाने की कोशिश की थी. हालांकि इसमें किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा था. बताया जा रहा है कि इस मामले की जो देखरेख कर रहे थे रोशन लाल कंबोज वह भी इसमें शामिल थे.

इसी रंजिश के तहत पिछले दिनों रोशन लाल कंबोज की फैक्ट्री पर कुछ हथियारबंद लोगों ने हमला कर दिया और वहां पर जो लोग थे उनके साथ मारपीट की. इस हमले की सारी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई है. कंपनी के लोगों ने यह सीसीटीवी पुलिस को दे दी है. इसी सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने काफी दिन बाद जाकर कार्रवाई करते हुए 3 लोगों का कुछ दिन पहले गिरफ्तार कर लिया था, जिन्हें कोर्ट से जमानत मिल गई है. 

रोशन लाल ने बताया कि यह सारा मामला पिछले मामले से जुड़ा हुआ है इसी वजह से इस रंजिश के ही चलते उन लोगों ने मेरे ऊपर दबाव बनाने की वजह से ही यह हमला किया था वहीं इस मामले की पैरवी कर रहे थे.

वहीं वकील अजय शांडिल्य ने बताया कि कि पिछले दिनों खनन माफिया को लेकर कुछ लोगों ने गांव सभापुर में विरोध किया था और धरना दिया था. वहीं पर कुछ लोगों ने उनके ऊपर डंपर चढ़ाने की कोशिश की थी, इसी रंजिश के तहत रोशन लाल कंबोज की फैक्ट्री पर कुछ अज्ञात लोगों ने हमला किया और उसकी सीसीटीवी फुटेज में सभी लोग कैद हो गए, जिसमें पुलिस ने कार्रवाई करते हुए अब तक 5 लोगों को गिरफ्तार किया है. अभी भी कई लोगों की गिरफ्तारी बाकी है. उनका कहना है कि बाल बनाने की वजह से यह पूरा हमला हुआ है.

ये भी देखें-: