EVM विवाद: EC ने दिल्ली पुलिस से सैयद शुजा के खिलाफ FIR दर्ज करने को कहा

चुनाव आयोग ने दिल्ली पुलिस को लिखे एक पत्र में कहा है कि सैयद शुजा ने आईपीसी की धारा 505 (1) का कथित तौर पर उल्लंघन किया है. यह धारा दहशत पैदा करने वाले अफवाह फैलाने से संबद्ध है.

EVM विवाद: EC ने दिल्ली पुलिस से सैयद शुजा के खिलाफ FIR दर्ज करने को कहा
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: चुनाव आयोग ने मंगलवार को दिल्ली पुलिस को उस स्वयंभू साइबर विशेषज्ञ के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज करने को कहा है, जिसने दावा किया है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में धांधली हुई थी और ईवीएम को हैक किया जा सकता है. 

चुनाव आयोग ने दिल्ली पुलिस को लिखे एक पत्र में कहा है कि सैयद शुजा ने आईपीसी की धारा 505 (1) का कथित तौर पर उल्लंघन किया है. यह धारा दहशत पैदा करने वाले अफवाह फैलाने से संबद्ध है.

आयोग ने पुलिस को लंदन के एक कार्यक्रम में सोमवार को शुजा द्वारा दिए गए बयान की शीघ्र जांच करने को कहा है. शुजा ने कहा था कि इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से छेड़छाड़ की जा सकती है और 2014 के लोकसभा चुनाव में धांधली हुई थी. 

बीजेपी ने साधा कांग्रेस पर निशाना
इससे पहले बीजेपी ने लंदन में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में 2014 आम चुनावों में धांधली के आरोपों को भारतीय लोकतंत्र और चुनाव आयोग को 'बदनाम करने' के उद्देश्य से 'कांग्रेस द्वारा प्रायोजित साजिश' बताया.

केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि संवाददाता सम्मेलन आयोजित करने वाली 'इंडियन जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन' के प्रमुख आशीष रे हैं. प्रसाद ने दावा किया कि आशीष एक 'समर्पित कांग्रेसी' हैं और वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के समर्थन में टिप्पणियां करते रहे हैं.

उन्होंने दावा किया कि आशीष कांग्रेसी मुखपत्र ‘नेशनल हेराल्ड’ में लिखते हैं, सोशल मीडिया पर कांग्रेस के लिए ‘‘प्रचार’’ करते हैं और उन्होंने अक्सर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है. प्रसाद ने कहा कि उन्होंने लंदन में गांधी की सभा को भी आयोजित किया था.

बता दें अमेरिका में राजनीतिक शरण चाहने वाले एक भारतीय साइबर विशेषज्ञ ने सोमवार को दावा किया कि भारत में 2014 के आम चुनाव में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के जरिये ‘धांधली’ हुई थी. उसका दावा है कि ईवीएम को हैक किया जा सकता है.

स्काईप के जरिये लंदन में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए शख्स ने दावा किया कि 2014 में वह भारत से पलायन कर गया था क्योंकि अपनी टीम के कुछ सदस्यों के मारे जाने की घटना के बाद वह डरा हुआ था. शख्स की पहचान सैयद शुजा के तौर पर हुई है.

(इनपुट - भाषा)