close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमेरिका के बाद यूरोपीय यूनियन की अपील, युद्ध से बचे पाकिस्तान और भारत

यूरोपीय संघ को उम्मीद है कि दोनों देश अत्यधिक संयम बरतेंगे और आगे किसी भी उकसावे से बचेंगे.

अमेरिका के बाद यूरोपीय यूनियन की अपील, युद्ध से बचे पाकिस्तान और भारत
EU ने कहा कि युद्ध के बेहद खतरनाक नतीजे हो सकते हैं. (फाइल)

नई दिल्ली: यूरोपीय संघ (ईयू) ने बुधवार को कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव गहराने का दोनों देशों और वृहत क्षेत्र के लिए खतरनाक परिणाम हो सकता है और दोनों को अत्यधिक संयम बरतना चाहिए. ईयू ने जोर देकर कहा है कि 'आतंकवाद को कभी भी उचित' नहीं ठहराया जा सकता. यूरोपीय संघ आयोग की उपाध्यक्ष फेडेरिका मोघेरिनी ने एक बयान में कहा कि पुलवामा में हालिया आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच नियंत्रण रेखा के पास तनाव बढ़ने से पिछले दिनों में सैन्य दृष्टि से माहौल भड़का है. इसकी वजह से दोनों देशों और वृहत क्षेत्र के लिए गंभीर और खतरनाक नतीजे हो सकते हैं .

मोघेरिनी ने कहा कि उन्होंने कुछ दिन पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से बातचीत की और आतंकवाद से निपटने की जरूरत पर बल दिया. सभी तरह की आतंकी गतिविधियों के खिलाफ स्पष्ट और लक्षित कार्रवाई करने के बारे में कहा गया. उन्होंने कहा, 'आतंकवाद को कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता.' 

मोघेरिनी विदेश मामलों और सुरक्षा नीति के लिए ईयू की शीर्ष प्रतिनिधि भी हैं. उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ को उम्मीद है कि दोनों देश अत्यधिक संयम बरतेंगे और आगे किसी भी उकसावे से बचेंगे. उन्होंने कहा कि इसे खत्म करने के लिए राजनीतिक स्तर पर राजनयिक संपर्क बहाल किए जाने और दोनों पक्षों की ओर से तुरंत कदम उठाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ दोनों देशों के संपर्क में रहेगा और हालात पर करीबी नजर बनाए रखेगा.

(इनपुट-भाषा)