Exclusive: शत्रुघ्न और सोनाक्षी दोनों लोग मेरे लिए चुनाव प्रचार करेंगे: पूनम सिन्हा

लोकसभा चुनाव 2019 के समर में पूनम सिन्हा सपा की ओर से लखनऊ से गृहमंत्री राजनाथ सिंह के ख़िलाफ़ चुनाव लड़ रही हैं. पूनम ने Zee News से एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में कहा कि इस चुनाव में लोगों को बदलाव चाहिए, सपा-बसपा मिलकर बदलाव लाएंगे.  

Exclusive: शत्रुघ्न और सोनाक्षी दोनों लोग मेरे लिए चुनाव प्रचार करेंगे: पूनम सिन्हा
पीएम के सवाल पर पूनम ने कहा कि पहले चुनाव होने दीजिये तब इस पर फैसला होगा.

लखनऊ: लोकसभा चुनाव 2019 के समर में पूनम सिन्हा सपा की ओर से लखनऊ से गृहमंत्री राजनाथ सिंह के ख़िलाफ़ चुनाव लड़ रही हैं. पूनम ने Zee News से एक्सक्लूसिव बातचीत की है. उन्होंने कहा कि देश में बदलाव के लिए समाजवादी पार्टी ज्वाइन की. अखिलेश यादव यूथ आइकॉन हैं और उनके विकास कार्यों से प्रभावित होकर सपा में शामिल हुई. इस चुनाव में लोगों को बदलाव चाहिए, सपा-बसपा मिलकर बदलाव लाएंगे.

पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ने जा रही पूनम ने कहा, "शत्रुघ्न सिन्हा और सोनाक्षी सिन्हा दोनों लोग मेरे लिए चुनाव प्रचार करेंगे. वो मेरे पति हैं और वो मेरे चुनाव प्रचार में अपनी ड्यूटी निभाने आए थे. वो कांग्रेस से हैं और मैं एसपी से हूं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा. कांग्रेस के अलग लड़ने से हमें फायदा होगा. मेरा कोई खेल नहीं बिगड़ेगा." 

राजनाथ सिंह के ख़िलाफ़ चुनाव लड़ने पर पूनम सिन्हा ने कहा, "जब कोई व्यक्ति चुनाव लड़ने जाता है तो ये नहीं देखा जाता है कि आदमी कितना बड़ा है या छोटा. हमें विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ना है. मुझे कोई डर नहीं है. आप बड़े या छोटे हैं ये जनता फैसला देगी." 

मेरे पति ने बीजेपी छोड़ने का फैसला इसलिए लिया क्योंकि जब हमने बीजेपी ज्वाइन की थी, अब वो बीजेपी ना रही. अटल जी और आडवाणी जी के समय की बीजेपी अब नहीं बची है. उस समय बीजेपी में तानाशाही नहीं थी. अब वो नहीं रहा है, बीजेपी में घुटन हो रही थी. मुझे लखनऊ को जानने में वक्त नहीं लगेगा और मुझे कोई दिक्कत नहीं होगी. सेलिब्रिटी से कोई समस्या नहीं है. उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन पर कहा, "अखिलेश और मायावती का गठबंधन बहुत अच्छा है. अखिलेश का काम बोल रहा है. मोदी और राहुल गांधी दोनों अपनी अपनी राजनीति कर रहे हैं, जो अच्छा होगा, वही आगे आएगा." 

पीएम के सवाल पर कहा कि पहले चुनाव होने दीजिये तब इस पर फैसला होगा. अखिलेश और मायावती के पीएम के सवाल पर कहा कि चुनाव हो जाने दीजिए अपने आप बात सामने आ जाएगी. मेरे लिए सबसे प्रमुख मुद्दे लोगों की तकलीफ़ें दूर करना है. यही हमारा काम है और एक सांसद का काम होता है कि हम लोगों के हित की बात करें.