Shivpal Yadav: सुरक्षा में कटौती के बाद शिवपाल यादव को दूसरा झटका! अब इस मामले में बढ़ सकती है मुसीबत
topStories1hindi1463721

Shivpal Yadav: सुरक्षा में कटौती के बाद शिवपाल यादव को दूसरा झटका! अब इस मामले में बढ़ सकती है मुसीबत

Shivpal Yadav Security: सुरक्षा में कटौती के बाद शिवपाल यादव की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है, क्योंकि सीबीआई ने गोमती रिवर फ्रंट घोटाले मामले में पूछताछ के लिए इजाजत मांगी है.

Shivpal Yadav: सुरक्षा में कटौती के बाद शिवपाल यादव को दूसरा झटका! अब इस मामले में बढ़ सकती है मुसीबत

Gomti Riverfront Scam: उत्तर प्रदेश में एक लोकसभा और 2 विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव के बीच यूपी सरकार ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) की सुरक्षा में कटौती कर दी है. इसके बाद शिवपाल यादव को दूसरा झटका लगने वाला है, क्योंकि सीबीआई ने गोमती रिवर फ्रंट घोटाले मामले (Gomti Riverfront Scam Case) में पूछताछ के लिए इजाजत मांगी है.

सीबीआई ने शुरू की घोटाले की जांच

गोमती रिवर फ्रंट घोटाले (Gomti Riverfront Scam) में तत्कालीन सिंचाई मंत्री शिवपाल सिंह यादव और दो आला अफसरों की भूमिका की पड़ताल सीबीआई ने शुरू कर दी है. सीबीआई ने उनसे आगे की जांच के लिए पूछताछ की अनुमति मांगी है. इसलिए शासन ने निर्णय लेने के लिए सिंचाई विभाग से संबंधित रिकॉर्ड तलब किया है.

उस समय सिंचाई मंत्री थे शिवपाल यादव

गोमती रिवर फ्रंट घोटाला (Gomti Riverfront Scam) जिस समय का बताया जाता है, शिवपाल यादव उस समय उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी सरकार में सिंचाई मंत्री थे. साल 2017 में सत्ता संभालते ही सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने गोमती रिवर फ्रंट की न्यायिक जांच कराई थी.

शिवपाल के सरकारी आवास पर संकट

शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) को लाल बहादुर शास्त्री मार्ग पर मिले बंगले के आवंटन पर भी संकट मंडराने लगा है. यूपी सरकार ने उन्हें यह सरकारी आवास विधायक आवास के रूप में आ‌वंटित किया है. आवास के साथ ही यहां प्रसपा का कार्यालय भी संचालित होता है, जबकि विधायक को सिर्फ बंगले में रहने के लिए अनुमति होती है. नियम के अनुसार, उनके इस आवास के आवंटन पर कभी भी संकट गहरा सकता है.

जांच पर शिवपाल यादव का बयान

गोमती रिवर फ्रंट घोटाले (Gomti Riverfront Scam) की जांच के सवाल पर शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने कहा कि मैंने जो भी काम किया है, जनता के हित में किया है. जितना काम हुआ है, अच्छे से अच्छा हुआ है. उसमें कोई कमी नहीं है. नियम के तहत काम हुआ है और अभी मुझे आपके माध्यम से पता चला है, इसकी पूरी जानकारी भी नहीं है क्या किया जा सकता है.

ताकत का दुरुपयोग कर रही सरकार: रामगोपाल यादव

सपा महासचिव रामगोपाल यादव (Ram Gopal Yadav) ने शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) पर सीबीआई जांच के सवाल पर कहा कि जब सरकार निराश और हताश हो जाती है तो अपने ताकत का दुरुपयोग करने की सोचती है. शिवपाल ने क्या गलत किया है और क्या बिगाड़ लेंगे. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि गोमती रिवर फ्रंट, साबरमती रिवर फ्रंट से बेहतर है.

पहले से चल रही है मामले की जांच: बीजेपी

यूपी भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी ने सपा के आरोपों पर जवाब देते हुए कहा कि गोमती रिवर फ्रंट घोटाले (Gomti Riverfront Scam) की सीबीआई जांच पहले से चल रही थी. यह एक न्यायिक प्रक्रिया है. ऐसा कहना बिल्कुल गलत है कि चुनाव से पहले उनकी जांच की जा रही है और बात रही सुरक्षा घटाने की तो सुरक्षा एजेंसियों को जब लगता है कि उनको ज्यादा सुरक्षा की जरूरत थी तब जेड दी गई और अब ऐसा महसूस हुआ कि उनको अब इतना ज्यादा खतरा नहीं तो घटा दी गई.

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं. 

Trending news