close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हिमाचल प्रदेश: धर्मशाला में 12 दिनों से धधक रही है आग, चारों ओर फैला धुआं

स्मार्ट सिटी धर्मशाला में नियम धुआं-धुआं हो रहे हैं. पर्यावरण संरक्षण के दावे भी हवा हो रहे हैं. हालांकि अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों समेत नगर निगम के कर्मी आग बुझाने में जुटे थे और आज भी भारी बारिश हुई, लेकिन आग बुझने का नाम नहीं ले रही इससे पूरा नगर निगम धर्मशाला क्षेत्र में वातावरण दूषित हो गया है.

हिमाचल प्रदेश: धर्मशाला में 12 दिनों से धधक रही है आग, चारों ओर फैला धुआं

धर्मशाला: हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में पिछले 12 दिनों से नगर निगम की डंपिंग साइट में कूड़े कचरे के ढेर में भयानक आग भड़की हुई है, जिससे स्मार्ट सिटी धर्मशाला की हवाओं में कार्बन मोनोआक्साइड का जहरीला धुंआ घुल रहा है, जिसके कारण स्थानीय लोगों के साथ साथ देश-विदेश से ठंडी हवाओं की चाह में धर्मशाला पहुंच रहे पर्यटकों को परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं. इसने समस्त आबोहवा को प्रदूषित कर दिया है, जिससे स्थानीय लोगों के साथ-साथ यहाँ पहुंचे देशी विदेशी पर्यटकों में बीमारी फैलने का खतरा बढ़ गया है और उन्हें सांस संबंधी बीमारियों से भी जूझना पड़ सकता है.

स्मार्ट सिटी धर्मशाला में नियम धुआं-धुआं हो रहे हैं. पर्यावरण संरक्षण के दावे भी हवा हो रहे हैं. हालांकि अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों समेत नगर निगम के कर्मी आग बुझाने में जुटे थे और आज भी भारी बारिश हुई, लेकिन आग बुझने का नाम नहीं ले रही इससे पूरा नगर निगम धर्मशाला क्षेत्र में वातावरण दूषित हो गया है.

इस बारे जब जिला कांगड़ा के जिलाधीश राकेश कुमार प्रजापति से बात की गई तो उन्होंने कहा जैसे ही यह मामला उनके ध्यान में आया तो उन्होंने नगर निगम को आदेश दिए थे कि तुरंत इसका निपटारा किया जाए. लेकिन आज दिन तक नगर निगम इसका निपटारा करने में नाकामयाब रहा है. उन्होंने कहा, एसडीएम धर्मशाला के माध्यम से नगर निगम को CRPS धारा 133 के अंतर्गत एक नोटिस भी दिया गया है. उन्होंने कहा नगर निगम को कल तक का समय दिया गया है कि आग पर काबू किया जाए और अगर इसी तरह धुआं रहता है तो नगर निगम पर जिला प्रशासन FIR भी दर्ज करवा सकता है.

हिमाचल प्रदेश राज्य वन विकास निगम के सहायक प्रबंधक वी.के कॉल ने कहा कि नगर निगम के आयुक्त सहित मेयर को बर्खास्त कर देना चाहिए. गौरतलब रहे कि नगर निगम धर्मशाला कि डंपिंग साईट में कूड़ा संयंत्र पिछले एक दशक से ख़राब ही पड़ा हुआ है, जिसे अभी तक ठीक नहीं किया जा सका है.