BJP के लिए प्रचार करने उतरे 'द ग्रेट खली, अपने 'खास दोस्त' के लिए मांगे वोट

रानीकुठी से अलीपुर सर्वे भवन तक छह किलोमीटर लंबे रंग-बिरंगे जुलूस में शामिल सात फुट एक ईंच लंबे ‘द ग्रेट खली’ने भीड़ की तरफ हाथ हिलाकर और मुस्कुरा कर उनका अभिवादन किया.  

 BJP के लिए प्रचार करने उतरे 'द ग्रेट खली, अपने 'खास दोस्त' के लिए मांगे वोट
फोटो साभारः IANS

कोलकाता: जाधवपुर संसदीय क्षेत्र से बीजेपी उम्मीदवार अनुपम हाजरा के नामांकन पत्र दाखिल करने के दौरान चैंपियन पहलवान ‘द ग्रेट खली’ शुक्रवार को वहां खुली जीप में पहुंचे जहां काफी संख्या में भीड़ ने उनका स्वागत किया. हाजरा ने खली के बारे में कहा, ‘‘हम पुराने मित्र हैं.’’ खली ने बीजेपी उम्मीदवार को अपने ‘‘भाई’’ की तरह बताया. डब्ल्यूडब्ल्यूई कुश्ती के भारत के पहले चैंपियन को देखने के लिए भीड़ उमड़ पड़ी. उनका असली नाम दिलीप सिंह राणा है. रानीकुठी से अलीपुर सर्वे भवन तक छह किलोमीटर लंबे रंग-बिरंगे जुलूस में शामिल सात फुट एक ईंच लंबे ‘द ग्रेट खली’ने भीड़ की तरफ हाथ हिलाकर और मुस्कुरा कर उनका अभिवादन किया.  

जाधवपुर सीट पर मिमी चक्रवर्ती बनाम अनुपम हाजरा
पश्चिम बंगाल के जाधवपुर सीट पर इस बार मुकाबला रोचक होने वाला है. टीएमसी और लेफ्ट के प्रभाव वाले इलाके जाधवपुर में टीएमसी ने बंगला फिल्म स्टार मिमी चक्रवर्ती को उतारा है. तो बीजेपी ने मिमी के मुकाबले अनुपम हजारा को उतारा है. हजारा बोलपुर से सांसद थे जिन्हें तृषमूल ने निष्कासित किया था.

दूसरे स्थान पर रही थी सीपीएम
जादवपुर लोकसभा सीट (Jadavpur Lok Sabha Elections 2019) पर 2014 में हुए चुनाव में TMC के सुगत बोस ने सबसे ज़्यादा 5,84,244 वोट हासिल किए. वहीं CPM के सुजन चक्रबर्ती 4,59,041 वोटों के साथ दूसरे स्थान पर रहे.1984 के लोकसभा चुनावों में इस सीट से कांग्रेस के टिकट पर ममता बनर्जी ने ताल ठोकी और जीत दर्ज की. 1996 से 1999 के बीच कृष्णा बोस ने 3 बार चुनाव जीता. वह एक बार कांग्रेस और 2 बार TMC के टिकट पर चुनाव लड़ीं. 2004 में CPM के सुजन चक्रबर्ती सांसद निर्वाचित हुए. 2009 में TMC के कबीर सुमन को यहां से चुनाव जीतने का मौका मिला.