close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

25 मार्च तक गिरफ्तार हो सकता है भगोड़ा नीरव मोदी, तेजी से चलेगा प्रर्त्यपण केस

 फरार हीरा कारोबारी नीरव मोदी के खिलाफ लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया था. 

25 मार्च तक गिरफ्तार हो सकता है भगोड़ा नीरव मोदी, तेजी से चलेगा प्रर्त्यपण केस
मुंबई की एक विशेष अदालत ने नीरव मोदी की पत्नी के खिलाफ भी गैर जमानती वारंट जारी किया था.

नई दिल्ली: पंजाब नेशनल बैंक महाघोटाले के सूत्रधार भगोड़ा हीरा व्यापारी नीरव मोदी की गिरफ्तारी 25 मार्च तक किसी भी समय हो सकती है. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) अधिकारियों को लंदन से इस बात के संकेत मिले है. ईडी के अधिकारी लंदन में नीरव मोदी केस से जुड़े अधिकारियों से लगातार संपर्क में हैं. जांच अधिकारियों का मानना है कि नीरव मोदी के केस मामले में थोड़ी तेजी से कारवाई हो सकती है. 

प्रर्त्यपण मामले में विजय माल्या केस से मिलेगी मदद
इसके पीछे का मुख्य कारण यह बताया जा रहा है कि विजय माल्या मामले में लंदन की जांच एजेंसियां और कोर्ट सारी प्रकिया देख चुकी हैं. वहीं, भारत की जांच एजेंसियों को भी लंदन की कानूनी प्रकिया का अंदाजा हो चुका है. लिहाजा इस बात का फायदा नीरव मोदी के प्रर्त्यपण में उठाया जा सकता है. अधिकारियों का कहना है कि नीरव मोदी के प्रर्त्यपण का केस तेजी से चल सकता है.   

लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने जारी किया था गिरफ्तारी वारंट
पंजाब नेशनल बैंक का 13000 करोड़ रुपये लेकर फरार हीरा कारोबारी नीरव मोदी के खिलाफ लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया था. गिरफ्तारी वारंट को नीरव मोदी के प्रत्यर्पण की दिशा में यह पहला कदम है. पिछले दिनों भगोड़ा नीरव मोदी लंदन में घूमता हुआ दिखाई दिया था. वर्तमान में वह जिस अपार्टमेंट में रह रहा है उसकी कीमत 70 करोड़ के आसपास बताई जा रही है, जिसका किराया हर महीने करीब 16 लाख रुपये है. इंग्लैंड के मीडिया के मुताबिक, उसने दोबारा हीरे का कारोबार शुरू कर दिया है.

 

पत्नी के खिलाफ भी जारी हो चुका है वारंट
हाल ही में मुंबई की एक विशेष अदालत ने नीरव मोदी की पत्नी के खिलाफ भी गैर जमानती वारंट जारी किया था. अमि मोदी (नीरव मोदी की पत्नी) पर आरोप है कि उन्होंने 3 करोड़ डॉलर ट्रांसफर करने के लिए इंटरनेशनल बैंक अकाउंट का इस्तेमाल किया था. शक है कि यह पैसा बैंक से लिए गए लोन वाला था. इस पैसे से न्यूयॉर्क के सेंट्रल पार्क में एक असेट को खरीदा गया था.

ईडी ने दायर की नई चार्जशीट
मार्च के दूसरे सप्ताह में ED (प्रवर्तन निदेशालय) ने नीरव मोदी के खिलाफ सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की थी. प्रवर्तन निदेशालय ने PMLA के अंतर्गत और CBI की FIR को आधार मानते हुए मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में नई चार्जशीट दाखिल की है.