भोपालः राहुल गांधी की रैली में नहीं जुटी भीड़, सभा स्थल से हटाई गईं खाली कुर्सियां

जहां एक तरफ कार्यकर्ताओं की संख्या का अनुमान 1 लाख से भी अधिक लगाया गया था तो वहीं कार्यक्रम में 15 हजार के लगभग कार्यकर्ता पहुंचे, जिसके चलते कांग्रेस को कार्यक्रम स्थल पर मौजूद खाली कुर्सियों को हटाना पड़ा.

भोपालः राहुल गांधी की रैली में नहीं जुटी भीड़, सभा स्थल से हटाई गईं खाली कुर्सियां
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो)

भोपालः लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होने से पहले ही सभी राजनीतिक दल अपने-अपने चुनावी रंगों में रंगे नजर आने लगे हैं. ऐसे में सभी राजनीतिक दलों के दिग्गजों ने जगह-जगह रैलियां भी शुरू कर दी हैं. आज जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में विशाल जनसभा को संबोधित किया तो वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी पड़ोसी राज्य मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के जंबूरी मैदान में चुनावी शंखनाद फूंकने पहुंच चुके हैं, लेकिन इसी बीच कार्यकर्ताओं के पर्याप्त संख्या में न पहुंचने पर पूरा जंबूरी मैदान खाली नजर आया. जहां एक तरफ कार्यकर्ताओं की संख्या का अनुमान 1 लाख से भी अधिक लगाया गया था तो वहीं कार्यक्रम में 15 हजार के लगभग कार्यकर्ता पहुंचे, जिसके चलते कांग्रेस को कार्यक्रम स्थल पर मौजूद खाली कुर्सियों को हटाना पड़ा.

भोपाल में सामने आया कांग्रेस का दूसरा विवादित बैनर, इस बार दिखा कुछ ऐसा

बता दें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज भोपाल के एक दिवसीय दौरे पर हैं, ऐसे में कार्यक्रम को लेकर किसी तरह की किरकिरी से बचने के लिए कांग्रेस ने सभा स्थल से सभी खाली कुर्सियों को हटवा दिया. बता दें कांग्रेस अध्यक्ष के कार्यक्रम में कांग्रेस ने 1 लाख से अधिक कार्यकर्ताओं को जुटाने का टारगेट रखा था, लेकिन कार्यक्रम के दौरान पर्याप्त मात्रा में भीड़ नहीं दिखी, जिसके चलते आनन-फानन में मैदान से खाली कुर्सियां हटा दी गईं.

BJP अयोध्‍या में उसी जगह पर राम मंदिर बनवाकर ही रहेगी : अमित शाह

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज चुनाव की तारीखों के ऐलान के पहले मध्य प्रदेश में किसानों का दिल जीतने के लिए किसान आभार सभा को संबोधित करने पहुंचे हैं. जहां कांग्रेस अध्यक्ष के स्वागत के लिए कांग्रेस ने बड़ी मात्रा में पोस्टर्स लगाए हैं. वहीं इन्हीं में से एक पोस्टर इस समय विवादों का विषय भी बना हुआ है. दरअसल, भोपाल में जो पोस्टर्स लगाए गए हैं, उनमें राहुल गांधी को भगवान राम और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रावण की तरह दिखाया गया है, जिसके चलते भाजपा ने इन पोस्टर्स का विरोध किया है.