बोस जयंती पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित नहीं करने से नाराज ममता ने साधा BJP पर निशाना, कही यह बड़ी बात

बोस जयंती पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित नहीं करने से नाराज ममता ने साधा BJP पर निशाना, कही यह बड़ी बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के मौके पर लाल किले में सुभाष चंद्र बोस संग्रहालय का उद्घाटन किया है. 

बोस जयंती पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित नहीं करने से नाराज ममता ने साधा BJP पर  निशाना, कही यह बड़ी बात

दार्जिलिंग: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित नही करने पर बुधवार को केंद्र पर निशाना साधा और कहा कि ऐसा लगता है कि बीजेपी उनको (नेताजी) राष्ट्रीय नेता नहीं मानती . उनकी यह टिप्पणी ऐसे दिन आई है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रवादी नेता की जयंती के मौके पर लाल किले में सुभाष चंद्र बोस संग्रहालय का उद्घाटन किया है. 

बोस की 122वीं जयंती के अवसर पर यहां आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कहा, 'ऐसा लगता है कि वे उन्हें (नेताजी) राष्ट्रीय नेता नहीं मानते हैं.' ममता बनर्जी ने कहा कि स्वतंत्रता की लड़ाई लड़ने के लिए नेताजी ने सभी समुदाय और वर्ग के लोगों को अपने साथ लिया. आजाद हिंद फौज (आईएनए) का गठन दार्जिलिंग से लेकर देश के अन्य भागों में रहने वाले लोगों को लेकर किया गया. 

'नेताजी करते थे भाइचारे की बात'
ममता ने कहा,‘देश के सभी लोगों के बीच एकता और भाइचारे की बात नेताजी करते थे.’उन्होंने कहा कि सभी वर्गों के लोगों को साथ लेकर चलने वाला व्यक्ति ‘सच्चा नेता’ होता है. उन्होंने कहा कि यही कारण है कि महात्मा गांधी, मौलाना अबुल कलाम आजाद और बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर महान राष्ट्रीय नेता थे. पर्वतीय शहर के चौरास्ता में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कहा, 'हम तभी सफल होंगे जब हम एकजुट रहेंगे.' 

(इनपुट - भाषा)

Trending news