close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चर्च प्रमुख के खिलाफ 'जाली' दस्तावेज बनाने के आरोप में व्यक्ति गिरफ्तार, विवाद पैदा

केरल में सायरो-मालाबार चर्च के प्रमुख कार्डिनल जॉर्ज एलेंचेरी के खिलाफ जाली दस्तावेज बनाने के आरोप में 24 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है 

चर्च प्रमुख के खिलाफ 'जाली' दस्तावेज बनाने के आरोप में व्यक्ति गिरफ्तार, विवाद पैदा

कोच्चि: केरल में सायरो-मालाबार चर्च के प्रमुख कार्डिनल जॉर्ज एलेंचेरी के खिलाफ जाली दस्तावेज बनाने के आरोप में 24 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है जिसके बाद केरल के प्रभावशाली कैथोलिक चर्च में एक विवाद उत्पन्न हो गया है. पादरियों के एक वर्ग ने गिरफ्तारी का विरोध किया है. एर्नाकुलम-अंगमाली आर्चडायोसिस के तीन बिशप आदित्य वलावी को गिरफ्तार करने के विरोध में खुलकर सामने आए. उन्होंने दावा किया वह अपराधी नहीं है और उसकी जाली दस्तावेजों में कोई भूमिका नहीं है. वलावी ने आईआईटी से स्नातकोत्तर किया है.

पादरियों ने दावा किया कि कोच्चि में एक प्रतिष्ठित कारोबारी समूह के साथ बतौर प्रशिक्षु काम कर रहे व्यक्ति ने अपनी कंपनी के कम्प्यूटर सर्वर से उन दस्तावेजों का स्क्रीनशॉट लिया था जिसमें कथित तौर पर एलेंचेरी का नाम था और वह उसे चर्च के एक पादरी के संज्ञान में लाया था. उस पादरी ने उस स्क्रीनशॉट को कथित तौर पर किसी दूसरे पादरी के साथ साझा किया जिन्होंने इसे सायरो-मालाबार चर्च के पादरियों की सभा को सौंप दिया.  

एर्नाकुलम-अंगमाली आर्चडायोसिस के बिशपों समेत पादरियों ने जाली दस्तावेज मामलों की उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की है. उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस ने गत सप्ताह जिस व्यक्ति को हिरासत में लिया था, उसे प्रताड़ित किया और मामले के संबंध में अन्य पादरियों के खिलाफ बयान देने के लिए मजबूर किया गया.

 पुलिस ने बताया कि सायरो-मालाबार चर्च के प्रमुख के खातों को एक निजी बैंक से जोड़ने वाले दस्तावेज जांच के दौरान फर्जी पाए गए. आदित्य को हिरासत में प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए पादरियों ने सरकार से मामले की सीबीआई या न्यायिक जांच कराने का आदेश देने का अनुरोध किया.

आदित्य के पिता जाचरिया ने आरोप लगाया कि पुलिस ने हिरासत में उनके बेटे को शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया. हिरासत में प्रताड़ना के आरोपों को खारिज करते हुए पुलिस ने कहा कि वे मामले की ‘‘वैज्ञानिक जांच’’ कर रहे हैं. इस बीच, पुलिस ने मंगलवार को मामले में फादर कालोकरन को भी आरोपी बनाया.