close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

धोखेबाज है मेहुल चोकसी, पूछताछ के लिए भारतीय एजेंसियां स्वतंत्र: एंटीगुआ के PM

पीएम ब्राउन ने कहा कि चोकसी को एंटीगुआ में रखने का कोई इरादा नहीं है.

धोखेबाज है मेहुल चोकसी, पूछताछ के लिए भारतीय एजेंसियां स्वतंत्र: एंटीगुआ के PM
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: एंटीगुआ और बारगुडा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन (Gaston Browne) ने पंजाब नेशनल बैंक घोटाले (PNB Scam) के आरोपी मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) को 'धोखेबाज' बताया है. पीएम ब्राउन ने कहा कि चोकसी को एंटीगुआ में रखने का कोई इरादा नहीं है. भारतीय जांच एजेंसियां चोकसी से पूछताछ करने के लिए स्वतंत्र हैं.

संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन में भाग लेने न्यूयॉर्क पहुंचे गैस्टन ने कहा, ''मुझे पर्याप्त जानकारी मिली है कि मेहुल चोकसी एक धोखेबाज (Crook) है. उसका मामला कोर्ट में चल रहा है. अभी तो हम कुछ नहीं कर सकते, लेकिन इतना जरूर कहना चाहता हूं कि हमारा मेहुल चोकसी को एंटीगुआ और बारबुडा में रखने का इरादा नहीं है.''

पूछताछ के लिए स्वतंत्र भारतीय एजेंसियां
प्रधानमंत्री ब्राउन ने अपने बयान में कहा कि एंटीगुआ में आकर भारतीय जांच एजेंसियां मेहुल चोकसी से पूछताछ करने के लिए स्वतंत्र हैं, बशर्ते चौकसी की भी सम्मति हो.

प्रत्यर्पण की संभावनाओं को मिला बल
एंटीगुआ और बारगुडा के पीएम ने कहा, ''मेहुल चोकसी एक धोखेबाज है. अगर उन्हें इस बारे में पता होता तो एंटीगुआ की नागरिकता नहीं दी जाती. उसे भारत प्रत्यर्पित किया जाएगा, क्यों कि वह एंटीगुआ का सम्मान नहीं बढ़ा रहा है. मेहुल ने हमारे देश की अदालत में अपील कर रखी है और जब तक उसकी सुनवाई पूरी नहीं हो जाती तब तक हम कुछ नहीं कर सकते. लेकिन अपील के खत्म होने पर उसका प्रत्यर्पण किया जाएगा.''

इससे पहले एंटीगा के प्रधानमंत्री गैस्टोन ब्रॉन ने कहा था कि चोकसी की एंटीगा और बरबूडा की नागरिकता बहुत जल्द रद्द की जाएगी. उन्होंने साफ-साफ कहा कि वह अपने देश को अपराधियों के लिए सुरक्षित जगह नहीं बनने देंगे.