close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नीरव मोदी की हिरासत 17 अक्टूबर तक बढ़ी, 19 मार्च से है सलाखों के पीछे

ब्रिटेन की अदालत ने पीएनबी घोटाले (PNB Scam) के आरोपी और भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) की हिरासत की अवधि 17 अक्टूबर तक के लिए बढ़ा दी है

नीरव मोदी की हिरासत 17 अक्टूबर तक बढ़ी, 19 मार्च से है सलाखों के पीछे
(फाइल फोटो)

लंदन: ब्रिटेन की अदालत ने पीएनबी घोटाले (PNB Scam) के आरोपी और भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) की हिरासत की अवधि 17 अक्टूबर तक के लिए बढ़ा दी है. आपको बता दें कि गुरुवार को वीडियो लिंक (Video Link) के जरिए लंदन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत में नीरव मोदी की पेशी हुई थी. लंदन की जेल में बंद नीरव हिरासत की नियमित सुनवाई (hearing) के लिए अदालत (Court) के समक्ष पेश हुआ था.

नीरव फिलहाल ब्रिटेन की जेल में बंद है
इससे पहले नीरव की हिरासत की अवधि 19 सितंबर तक के लिए बढ़ा दी गई थी. आपको बता दें कि नीरव फिलहाल ब्रिटेन (Britain) की जेल में बंद है और उसके भारत प्रत्यर्पण को लेकर सुनवाई अगले साल मई में होने की उम्मीद की जा रही है. नीरव मोदी पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) के साथ दो अरब अरब डॉलर की धोखाधड़ी (Fraud) और धनशोधन मामले में वांछित है.

देखें लाइव टीवी

19 मार्च को लंदन में गिरफ्तार किया गया था नीरव मोदी
बता दें कि नीरव मोदी (Nirav Modi) को 19 मार्च को लंदन (London) में गिरफ्तार (arrest) किया गया था जिसके बाद से वह जेल (Jail) में है. ब्रिटेन (Britain) के कानून के आधार पर उसे हर चार सप्ताह के बाद हिरासत की अवधि को बढ़ाने के लिए अदालत में पेश किया जाता है. नीरव की आखिरी पेशी 22 अगस्त को हुई थी. अदालत इससे पहले कई बार नीरव मोदी की जमानत याचिका (bail plea) खारिज कर चुकी है. पिछले महीने ब्रिटेन के उच्च न्यायालय ने भी नीरव मोदी की जमानत याचिका खारिज कर दी थी. यह उसकी चौथी जमानत याचिका थी.