close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पहुंचे राष्ट्रपति कोविंद, शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि

कोविंद ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के वार्षिक ''वीरता दिवस'' के मौके पर स्मृति कार्यक्रम के दौरान शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी और स्मारक पर पुष्पचक्र चढ़ाया.

राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पहुंचे राष्ट्रपति कोविंद, शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (फोटो साभारः ANI)

नई दिल्लीः राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने पुलवामा आतंकवादी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवान समेत पुलिस और अर्द्धसैन्य बलों के शहीद जवानों को यहां मंगलवार को राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पर श्रद्धांजलि दी. कोविंद ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के वार्षिक ''वीरता दिवस'' के मौके पर स्मृति कार्यक्रम के दौरान शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी और स्मारक पर पुष्पचक्र चढ़ाया. 

महात्मा गांधी को 21वीं सदी की चुनौतियों का अनुमान हो गया था: रामनाथ कोविंद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 अक्टूबर, 2018 को पुलिस स्मरणोत्सव दिवस के मौके पर 30 फुट लंबे और 238 टन काले ग्रेनाइट से बने राष्ट्रीय पुलिस स्मारक का उद्घाटन किया था. राष्ट्रपति राजधानी के चाणक्यपुरी इलाके में स्थित इस स्मारक पर पहली बार गए. सशस्त्र सेना के सर्वोच्च कमांडर कोविंद को सीआरपीएफ, बीएसएफ, आईटीबीपी, सीआईएसएफ और एसएसबी जैसे सभी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों ने ''राष्ट्रीय सलामी'' और गार्ड ऑफ ऑनर दिया.

जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष बने देश के पहले लोकपाल, राष्‍ट्रपति कोविंद ने दिलाई शपथ

केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा, खुफिया ब्यूरो के निदेशक राजीव जैन, सीआरपीएफ के निदेशक राजीव राय भटनागर, अद्धसैन्य पुलिस बलों और गृह मंत्रालय के अन्य अधिकारी इस कार्यक्रम में मौजूद रहे. यह दिन 1965 में गुजरात के कच्छ के रण में सरदार पोस्ट पर दिखाई सीआरपीएफ जवानों की वीरता की याद में मनाया जाता है. (इनपुटः भाषा)