close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान में भीषण गर्मी से कई जिलों में गहराया जल संकट

कुओं पर भी पानी भरने के लिए भीड़ लगी रहती है. बारां शहर में कई जगह लोग दो सौ रूपयें प्रति महीने में पानी खरीदने को मजबूर है.

राजस्थान में भीषण गर्मी से कई जिलों में गहराया जल संकट
साइकिलों पर लोग दूर -दूर से पानी लाकर प्यास बुझा रहें है.

कोटा: बारां जिलें में गर्मी बढ़ने के साथ-साथ पेयजल संकट गहराने लगा है. लोगों को पांच-पांच किलोमीटर दूर से पेयजल की व्यवस्था करनी पड़ रही है. पानी के अभाव में मवेशी, पशु, पक्षी सब परेशान है, तो कहीं लोग निजी नलकूपों से पानी खरीद कर प्यास बुझा रहे है. जिलें में कई जगहों पर ठेलो बाइक, और साइकिलों पर लोग दूर -दूर से पानी लाकर प्यास बुझा रहें है.

कुओं पर भी पानी भरने के लिए भीड़ लगी रहती है. बारां शहर में कई जगह लोग दो सौ रूपयें प्रति महीने में पानी खरीदने को मजबूर है. जिलें में अच्छी बरसात होने के बाद भी जिले में भीषण गर्मी के बीच पानी का संकट गहराने लगा है. जिले में जलदाय विभाग के पास 13 हजार हैंडपंप हैं. इनमें से सैकड़ों हैंडपंप में मोटर डालकर लोगों को पेयजल उपलब्ध करवाया जा रहा है. आए दिन हैंडपंपों के खराब होने से पेयजल को लेकर परेशानी बढ़ रही है.

वहीं राजस्थान के जैसलमेर में तापमान में बढ़ोतरी का क्रम लगातार जारी है. सूरज के आग उगलने से समूचा जिला गर्मी और लू के कारण भट्टी की तरह दहकता रहा. सुबह से ही सड़कें तवे की भांति तप रही है. लू के थपेड़ों से आमजन का जीना मुहाल हो गया. घरों में एसी पंखे की हवा से भी लोगों को राहत नहीं मिल रही है. तेज धूप के चलते लोग घरों से बाहर निकलने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे है. गर्मी और लू से बचाव के लिए लोग आवश्यक जतन करके ही बाहर निकलते दिख रहे है.  

गौरतलब है कि जैसलमेर में इन दिनों गर्मी लगतार रिकॉर्ड तोड़ रही है. आसमान से उगलती आग ने जनजीवन बेहाल रहा. दोपहर तेज गर्म हवाएं और सूरज की तपिश ने लोगों को झुलसाकर रख दिया. लू और गर्मी से आमजन जीवन बुरी तरह से प्रभावित हो रहा है. दोपहर में सड़कों पर तीन घंटे तक कर्फ्यू जैसे हालात नजर आ रहा है. गर्मी ने लोगों के हाल-बेहाल कर दिए हैं. दिनभर लू के थपेड़े तेज गर्मी ने लोगों को पसीने-पसीने कर दिया. गर्मी इतनी ज्यादा थी सड़क का डामर तक पिघल गया. 

सुबह से ही तेज धूप ने असर दिखाना शुरू कर दिया, दोपहर होते-होते शहर की सड़कें वीरान होने लगी. ऐसे लगा मानो कोई कर्फ्यू लगा हो.  इधर मौसम वैज्ञानिक गर्मी और बढ़ने की संभावना जता रहे हैं. ऐसे में आने वाले दिनों में गर्मी और बढ़ेगी. गर्मी से राहत पाने के लिए लोग ठंडे पेय पदार्थों का सहारा लेने के साथ अन्य तरह तरह के उपाय कर रहे हैं. लेकिन कई इलाकों में भीषण गर्मी के कारण पानी की समस्या ने भी लोगों का जीना मुहाल कर दिया है.